biriyani-tour
File Pic

    नयी दिल्ली/इस्लामाबाद जहाँ एक तरफ न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम (Newzeland Cricket Team) ने हाल ही में पाकिस्तान का दौरा (Pakistan Tour) किया था। वहीं इस दौरे के ठीक शुरू होने से पहले,  सुरक्षा कारणों के मद्देनजर न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने यह दौरा भी रद्द कर दिया था। बता दें कि न्यूजीलैंड को पाकिस्तान के इस दौरे पर वनडे और टी20 की एक-एक सीरीज के खेलनी थी। खैर न्यूजीलैंड द्वारा यह दौरा रद्द करने के बाद से पूरे क्रिकेट जगत में इस पार काफी बवाल हुआ है।

    वहीं पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने इस दौरे को रद्द करने के लिए न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम और बोर्ड पर कई आरोप भी लगाए। लेकिन अब अब इस दौरे के रद्द होने के बाद एक और नया और खास बवाल सामने आ रहा है, जिसे हम ‘बिरयानी का बवाल’ कहे तो ज्यादा सटीक होगा। 

    27 लाख की बिरयानी खा गए पाक सुरक्षाकर्मी 

    दरअसल पाकिस्तानी वेबसाइट की एक खबर की मानें तो न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम पाकिस्तान के दौरे के दौरान पूरे आठ दिन तक पाकिस्तान में रूकी थी, इस दौरान न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के सुरक्षा में लगे पाकिस्तानी सुरक्षाकर्मियों ने करकीब 27 लाख रुपये की तो सिर्फ बिरयानी ही खा ली। यह दावा हम नहीं बल्कि 24NewsHDTV नाम के एक चैनल ने किया है।

    इस चैनल ने यह बड़ा दावा करते हुए अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि, न्यूजीलैंड की क्रिकेट टीम आठ दिन तक इस्लामाबाद की सेरेना होटन में ठहरी हुई थी। यहां पर उनके खिलाड़ियों के सुरक्षा के मद्देनजर कैपिटल टेरेटरी पुलिस को तैनात किया गया था। इस दौरान करीब 500 पुलिसकर्मी यहाँ पर अपनी ड्यूटी कर रहे थे। अब इन पुलिसवालों का खाने का खर्च ही करीब 27 लाख का आया है, यह बिल केवल 8 दिन के अंदर आया है। इस दौरान पुलिसकर्मियों के लिए दो दफा बेहतरीन और आला ‘बिरयानी’ आती थी।

    यह घटना की जानकारी सबके सामने तब आई जब बिल पास होने के लिए यह फाइनेंस विभाग के पास पहुंची। यहां जांच के दौरान इतने बड़ी रकम की बिल आई तो सबके होश फाख्ता हो गए। फिलहाल तो इस बिल को रोक लिया गया है। यह भी बता दें की न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के सुरक्षा के लिए फ्रंटियर कॉन्सटेबुलरी के अतिरिक्त जवान भी तैनात थे अभी उनके खाने का बिल तो खैर अभी आना बाकि है, क्योंकि उनका खाना भी अलग से आता था।  

    इस प्रकार देखा जाए तो पाकिस्तान फिलहाल वित्तीय संकटों से भी गुजरा रहा है। वहीं PCB भी न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम से अपने लिए कुछ आर्थिक आस बाँध रखी थी। लेकिन यह दौरा तो रद्द हुआ, उल्टे बिरियानी का यह तगड़ा बिल उनके गुस्से की आग में और भी ‘घी’ का काम कर रहा है।