Imran Khan is confused .... will Bilawal Bhutto become Pakistan's PM?

    Loading

    इस्लामाबाद: पाकिस्तान में इमरान खान को कुर्सी से हटाने के बाद भी सियासी बयानबाजी थमने का नाम नहीं ले रही है। बिलावल भुट्टो के निशाने पर लगातार इमरान खान बने हुए हैं। इसी कड़ी में पाकिस्तान (Pakistan) के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी (Bilawal Bhutto) ने पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान (Former PM Imran Khan) पर निशाना साधते हुए कहा कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सरकार को अपदस्थ करने की ”साजिश” व्हाइट हाउस नहीं, बल्कि ‘बिलावल हाउस’ में रची गई थी। 

    गौरतलब है कि इमरान खान अपनी सरकार के खिलाफ विपक्ष द्वारा लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के पीछे अमेरिका का हाथ होने का आरोप लगाते रहे हैं। कराची में एक रैली को संबोधित करते हुए बिलावल ने कहा कि खान के दावों के विपरीत उनके खिलाफ कोई विदेशी साजिश नहीं थी और उन्हें केवल एक लोकतांत्रिक प्रक्रिया के माध्यम से हटाया गया, जो देश की संसद और राजनीतिक कार्यकर्ताओं दोनों की जीत है। 

    ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, बिलावल ने कहा, ”हमने अविश्वास प्रस्ताव को इमरान खान के खिलाफ लोकतांत्रिक हथियार के रूप में इस्तेमाल किया और उनकी सरकार को गिरा दिया।” उन्होंने कहा, ”इमरान खान कभी आपके या जनता के प्रतिनिधि नहीं थे… उन्हें हम पर थोपा गया था। उन्होंने सत्ता संभाली लेकिन वह एक भी वादे को पूरा करने में विफल रहे।’

    गौर हो कि पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने आरोप लगाया था कि यूक्रेन के मामले पर स्वतंत्र विदेश नीति अपनाने के फैसले के बाद अमेरिका ने उनकी सरकार गिराने की साजिश रची थी। हालांकि अमेरिका ने इमरान के इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था। (एजेंसी इनपुट के साथ)