BRICS
Pic: Twitter

    नई दिल्ली. सुबह कि एक बड़ी खबर के अनुसार जल्द ही BRICS सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi), चीन (China) के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और रूस (Russia) के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन (Vladimir Putin) एक साथ वर्चुअल मंच पर हम सबको दिखेंगे। जी हाँ, सूत्रों की मानें तो 24 जून को BRICS सम्मेलन प्रस्तावित है। वहीं यूक्रेन-रूस जंग के बाद अब यह पहला मौका होगा, जब रूस-चीन और भारत किसी एक मंच पर एक साथ दिखेगा।

    गौरतलब है कि  कि इससे पहले चीनी राष्ट्रपति चीनी शी जिनपिंग ने बीते 19 मई को ब्रिक्स के विदेश मंत्रियों की एक बैठक को संबोधित किया था और एक-दूसरे के मूल हितों और प्रमुख चिंताओं को समायोजित करने, एक-दूसरे की संप्रभुता, सुरक्षा और विकास हितों का सम्मान करने और वर्चस्ववाद एवं सत्ता की राजनीति का विरोध करने का भी आह्वान किया था।

    हालाँकि इस बैठक में भोई चीन अपनी नई वैश्विक सुरक्षा पहल के लिए समर्थन प्राप्त करने की भरपूर कोशिश करेगा। हालांकि, इस बैठक में रूस-यूक्रेन युद्ध पर चर्चा होने की फिलहाल संभावना बहुत कम है, क्योंकि इससे पहले भी भारत और चीन ने रूस के खिलाफ खुलकर बोलने से परहेज ही किया था। 

    गौरतलब है कि, ब्रिक्स बैठक में सभी सदस्य देशों के बीच आर्थिक और व्यापारिक सहयोग, ब्रिक्स व्यापार परिषद, नवाचार सहयोग, सीमा शुल्क सहयोग, आकस्मिक रिजर्व समझौते और न्यू डेवलपमेंट बैंक के बीच हो रहे रणनीतिक सहयोग पर भी इस बार चर्चा की जाएगी।