There may be talks between Saudi Arabia-Iran, King Salman expressed hope
File

    दुबई: सऊदी अरब (Saudi Arab) के शाह सलमान (King Salman) ने ईरान (Iran) के साथ उनके साम्राज्य की सीधी बातचीत से विश्वास कायम होने की उम्मीद जाहिर की है। दोनों कटु क्षेत्रीय प्रतिद्वंद्वी कई वर्षों के तनाव के बाद बातचीत की दिशा में अब छोटे-छोटे कदम उठा रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र महासभा (United Nations General Assembly) में बुधवार को उनका पूर्व रिकॉर्डेड भाषण प्रसारित किया गया।

    उन्होंने कहा कि ईरान, सऊदी अरब का एक पड़ोसी है और उनके साम्राज्य को उम्मीद है कि दोनों देश ऐसे परिणाम पर पहुंच सकते हैं, जो क्षेत्रीय आकांक्षाओं को प्राप्त करने का मार्ग प्रशस्त करेंगे। उन्होंने हालांकि आगाह किया कि उनके बीच संबंध राष्ट्रीय संप्रभुता के सम्मान और सांप्रदायिक विद्रोहियों की मदद बंद करने पर ही कायम हो सकते हैं। ईरान की अर्ध-सरकारी ‘मेहर’ समाचार एजेंसी के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र महासभा से इतर दोनों देशों के अधिकरियों के बीच न्यूयॉर्क में मुलाकात हुई।

    खबर के अनुसार, ईरान, सऊदी अरब, तुर्की, कतर, मिस्र, कुवैत, जॉर्डन और फ्रांस के विदेश मंत्रियों और अधिकारियों ने बैठक की। इसमें यूरोपीय संघ के नीति प्रमुख भी शामिल हुए। इस बैठक की अध्यक्षता इराक के विदेश मंत्री ने की। ‘मेहर’ ने इरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर-अब्दोल्लाहियां के हवाले से कहा कि ईरान सरकार की प्राथमिकता ‘‘अपने पड़ोसियों के साथ और क्षेत्र में संबंधों को मजबूत और विकसित करना है।”

    ‘मेहर’ के अनुसार, उन्होंने मंगलवार को न्यूयॉर्क में फिनलैंड, जर्मनी, ऑस्ट्रिया, स्विटजरलैंड और क्रोएशिया के विदेश मंत्रियों से भी मुलाकात की। ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी वैश्चिक महामारी कोविड-19 के कारण ईरान में ही हैं। उनका भी पहले से रिकॉर्डेड भाषण मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रसारित किया गया था। (एजेंसी)