corona
File Photo

    यवतमाल. जिले में कोरोनाबाधितों में वृद्धि होने के बाद भी स्वस्थ होनेवाले प्रमाण भी अच्छा है. लगातार 2 दिनों कोरोनाबाधितों की संख्या से स्वस्थ होनेवालों की संख्या अधिक है. गुरुवार को कोरोनामुक्त होनेवालों की संख्या बाधितों से लगभग 249 से अधिक थी. जिले में गत 24 घंटों में जिले में 855 नए से कोरोना पाजिटिव मरीज मिले हैं और 1,104 ने कोरोना पर मात करने की वजह से अस्पताल से छूट्टी दे दी गई है. जिले में कुल 31 कोरोनाबाधितों की मौत हुई है. इनमें से 21 सरकारी वैद्यकीय महाविद्यालय और 4 की मौत डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में तथा 6 की मौत निजी अस्पताल में हुई.

    1,243 पर पहुंचा मृतकों का आंकड़ा

    जिला परिषद के स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार शुक्रवार को कुल 5,546 की रिपोर्ट प्राप्त हुई है. इनमें से 855 लोग नए से पाजिटिव निकले और 4,691 की रिपोर्ट निगेटिव मिली है. वर्तमान में जिले में 6,831 एक्टिव पाजिटिव हुए है. इनमें से अस्पताल में भर्ती 2,524 तो होम क्वारंटाइन 4,307 मरीज है. अब तक कुल पाजिटिव मरीजों की संख्या 51,850 हो गई है. 24 घंटे में 1,104 लोग कोरोनामुक्त होने से जिले में स्वस्थ होनेवालों की कुल संख्या 43,776 है. जिले में कुल 1243 मौत दर्ज है. जिले का पाजिटिविटी रेट 12.60 होकर मृत्यु दर 2.40 है.

    सरकारी वैद्यकीय महाविद्यालय में मौत होनेवालों में यवतमाल शहर के 59, 50, 44, 74  वर्षीय पुरुष व 58 वर्षीय महिला, यवतमाल तहसील के 60 वर्षीय पुरुष व 33 वर्षीय महिला, वणी के 72, 65, 55 वर्षीय महिला, तहसील के 60 वर्षीय पुरुष, नेर तहसील के 65 वर्षीय पुरुष, पांढरकवड़ा तहसील के 80 वर्षीय पुरुष व 54 वर्षीय महिला, आर्णी  के 55 वर्षीय पुरुष, तहसील के 42 वर्षीय पुरुष व 70 वर्षीय महिला, महागांव तहसील के 75 वर्षीय महिला, कलंब के 61 वर्षीय महिला, बाभुलगांव तहसील के 58 वर्षीय महिला और मारेगांव तहसील के 60 वर्षीय पुरुष का समावेश हैं. जिले के निजी अस्पताल में मृतकों में यवतमाल के 47 वर्षीय पुरुष व 47 वर्षीय महिला, वणी  के 46 वर्षीय पुरुष, दिग्रस  की 80 वर्षीय महिला, आर्णी के 58 वर्षीय पुरुष व घाटंजी की 48 वर्षीय महिला हैं. डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर के मृतकों में पुसद तहसील के 45 वर्षीय महिला, वणी के 65 वर्षीय पुरुष व 85 वर्षीय महिला व मारेगांव तहसील के 48 वर्षीय पुरुष का समावेश है.

    तहसीलों में मरीजों की स्थिति 

    गुरुवार को पाजिटिव 855 लोगों में 542 पुरुष और 313 महिला है. इसमें यवतमाल स्थित 208 पाजिटिव मरीज, वणी 46, पांढरकवडा 129, घाटंजी 41, दारव्हा 128, उमरखेड 13, आर्णी 35, दिग्रस 50, पुसद 55, नेर 36, महागांव 14, मारेगांव 30, झरीजामणी 33, बाभुलगांव  5, रालेगांव 20, कलंब 6 और अन्य शहरों में 6 मरीज है. गुरुवार को पाजिटिव निकले 855 मरीजों 542 पुरुष व 313 महिला है. इनमें यवतमाल के 208 पाजिटिव मरीज, वणी 46, पांढरकवड़ा 129, घाटंजी 41, दारव्हा 128, उमरखेड 13, आर्णी 35, दिग्रस 50, पुसद 55, नेर 36, महागांव 14, मारेगांव 30, झरीजामणी 33, बाभुलगांव  5, रालेगांव 20, कलंब 6 व अन्य शहर के 6 मरीजों का समावेश हैं. शुरुआत से लेकर अबतक 411544 सैंपल परीक्षण के लिए भेजे गए. इनमें से 40,4767 प्राप्त और 6777 अप्राप्त है. 35,2917 नागरिकों के सैंपल अबतक निगेटिव निकलने की जानकारी जिप स्वास्थ्य विभाग ने दी है.

    नियंत्रण कक्ष की स्थापना

    आक्सीजन और रेमेडेसिविर की आपूर्ति जिले में प्रचुर मात्रा में है. कुछ निजी कोविड अस्पतालों के बारे में नागरिकों से शिकायतें हैं. निजी कोविड अस्पताल में आक्सीजन की आपूर्ति के लिए जिलाधिकारी कार्यालय में जिससे निजी कोविड अस्पताल में आक्सीजन, रेमडेसिविर आपूर्ति तथा बेडसीमा के साथ-साथ बेड प्रबंधन और कुछ अन्य शिकायतों के लिए एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है. कोरोनावायरस रोगियों की दिन-प्रतिदिन बढ़ती संख्या को देखते हुए नागरिकों को सरकार और प्रशासन के दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए. नियमित रूप से मास्क, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना, भीड़ से बचना आदि को सख्ती का पालन करने का आह्वान जिलाधिकारी ने किया है.