LPG cylinder

  • ग्राहकों की शिकायतों पर की जा रही अनदेखी

वणी. एक ओर जहां निजी कंपनियां ग्राहकों से मुनाफा कमाने का कोई मौका नहीं छोड़ रही, वहीं कुछ सरकारी कंपनियां इस मामले मे निजी कंपनियों से कम नहीं है. ऐसा ही कुछ मामला एलपीजी गैस सिलेंडर को लेकर सामने आया है. एचपी एवं इंडेन गैस के लिए बुकिंग करवाने पर इनवाइस रसीद ऑनलाइन भेजी रही है, जो दाम बढ़ते ही बदल दी जाती है.

कई ग्राहकों की शिकायत है कि बुकिंग वाले दिन या अगले दिन सिलेंडर के दाम बढ़ जाते है तो पहली रसीद को रद्द कर बढ़े दामों वाली नई रसीद भेज दी जाती है. और ग्राहकों को दाम में परिवर्तन के बाद मूल्य बढ़ने की सूचना नहीं दी जाती. दूसरी ओर इंडियन आइल के एजेंसी संचालक इसे कंपनी का सेंट्रलाइज सिस्टम बता रहे है. उनका कहना है कि बुकिंग होना, रद्द किया जाना या फेरबदल का पूरा सिस्टम सेंट्रलाइज है और इसे नियम के मुताबिक ही चलाया जा रहा है.

सेंट्रलाइज सिस्टम के बावजूद गड़बड़ी 

एजेंसी के मुताबिक जिस दिन सिलेंडर घर पहुंचाकर पैसे लिए जा रहै है, उसी दिन के हिसाब से सिलेंडर की कीमत ली जाएगी. कीमतें बढ़ने-कम होने पर बुकिंग रद्द नहीं की जाती है, सिर्फ रकम कम या ज्यादा की जाती है. हालांकि, एजेंसी संचालकों का दावा है कि दाम कम होने पर सिलेंडर के दाम भी कम किए जाते है, लेकिन इस बात को लेकर कोई प्रमाण उपलब्ध नहीं हुए है.