arrest

यवतमाल. हत्या के मामले में सजा काट रहे आरोपी विगत सात साल पहले पैराल मिला था. हालांकि, वह अपने कार्यकाल खत्म होने के बाद भी वह जेल में उपस्थित नहीं हुआ. आखिरकार, सात साल के बाद, फरार आरोपी को एलसीबी दल ने गिरफ्तार कर लिया. यह आपरेशन बुधवार को किया गया. पकडे गए फरार आरोपी रामराव पुना जाधव निवासी सिंगद तहसील दिग्रस है. 

सूत्रों के अनुसार दिग्रस तहसील के सिंगद निवासी रामराव जाधव को 18 नवंबर 1994 को एक हत्या मामले में आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. बाद में उसे अमरावती सेंट्रेल जेल में रखा गया था. वह 19 अक्तूबर 2011 को अपनी संचित छुट्टी का आनंद लेने के लिए सिंगद आया था. हालांकि, अवधि खत्म होने के बाद भी जेल में उपस्थित नहीं हुआ. जिससे दिग्रस पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया. लेकिन वह पुलिस के हाथ नहीं लग रहा था. दौरान पुलिस अधिक्षक डा. दिलीप भुजबल ने फरार कैदी के लिए तलाशी अभियान चलाया था और उसे तुरंत गिरफ्तार करने के निर्देश दिए थे. जिसके तहत इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया.