ओबी ओवर रिपोर्टिंग मामले मे अधिकारियों को चार्जशीट

  • जीएम सहीत 14 अधिकारी एवं 2 कर्मी आरोपी

वणी. वेकोलि वणी उत्तर क्षेत्र की कोलारपिंपरी खदान मे ओबी की ओवर रिपोर्टिंग कर अतिरीक्त राशि का भुगतान करने के आरोप मे वणी उत्तर क्षेत्र के  16 अधिकारियों को चार्जशीट दिये जाने से वेकोलि मे खलबली मच गयी है.

विजिलेस की अनुशंसा पर सक्षम पदाधिकारी की ओर से चार्जशीट पर हस्ताक्षर कर दिया गया है. सूत्रो ने बताया कि सीवीसी से हरी झंडी मिलने के बाद चार्जशीट दी गई है.  इसमे तत्कालीन जीएम समेत उपक्षेत्रिय प्रबंधक, खदान प्रबंधक, सर्वे अधिकारी, ओव्हरमँन एवं मामले से संबंधित 14 अधिकारी एवं 2 कर्मी इसमे शामील है. इनमे से एक अधिकारी का पिछले माह निधन हो चुका है. चार्जशीट मे ओवर बर्डन की मापी मे ओव्हर रिपोर्टींग करना ओबी ठेकेदार को अतिरीक्त राशी का भुगतान करने का आरोप लगाया गया है एवं एक माह के भीतर जवाब मांगा गया है. मालूम हो ज्ञात हो की सितंबर 2019 मे वेकोलि वणी उत्तर क्षेत्र की कोलारपिंपरी ओपनकास्ट कोयला खदान मे ओबी की ओवर रिपोर्टिंग की शिकायत वेकोलि मुख्यालय मे की गयी थी. 

क्या था मामला

वेकोलि वणी उत्तर क्षेत्र की कोलारपिंपरी खुली कोयला खदान का करीब 561 करोड़ का  आउटसोर्सिंग कार्य सदभाव इंजिनयरिंग कंपनी कर रही है. अप्रैल 2018 से जुन 2023 तक इस परीयोजना से करीब 7 करोड 61 लाख क्यूबिक मीटर ओवर बर्डेन (ओबी) और 72 लाख टन कोयला निकासी का कार्य इस आउटसोर्सिंग कंपनी को  मिला है. इसमे साँफ्ट, हार्ड ओबी एंव कोयला 1 से 4 कि.मी लीड तक अलग अलग मात्रा मे निकालना है. कार्यादेश के मुताबीक कंपनी को कंपनी को ड्राई दिनो मे 55 हजार क्यूबिक मीटर ओवर बर्डेन एवं 5 हजार 85 टन प्रतिदिन तथा अन्य दिनो मे 20 हजार क्यूबिक मीटर ओवर बर्डेन एवं 1967 टन कोयला उत्पादन करना है.

कोलारपिंपरी मे वेकोलि के  अधीन चलने वाली सदभाव कंपनिने  कोयला उत्खनन के दौरान ओबी हटाने के नियम को ताक पर रखकर उत्खनन कीया. नियम के अनुसार 70 लाख क्यूबिक मीटर ओवरबर्डेन हटाने के बाद जितना कोयले का उत्पादन होना चाहिए वह हुआ नही  लेकिन पूर्व में आउटसोर्सिग कंपनि ने स्थानिय अधिकारीयो से सांठगांठ कर ओवरबर्डेन की खुदाई कर 7 से 8 करोड रूपये की अतिरीक्त राशि का भुगतान वेकोलि से ले लिया.इसके बाद नवभारत ने इस मामले को प्रमुखता से उठाने से वेकोलि प्रबंधन ने इस मामले की विजिलेंस जांच के आदेश दिये थे एवं एक साल बाद इस मामले मे विजिलेस की अनुशंसा पर सक्षम पदाधिकारी की ओर से 14 अधिकारीयो को एवं 2 कर्मीयो चार्जशीट इश्यु की गयी है.