कांग्रेस ने निकाली साइकिल रैली, ईंधन मूल्य वृद्धि का जताया निषेध

    यवतमाल. महंगाई प्रगति बुक में विफल रहने मोदी सरकार की आलोचना करते हुए, कांग्रेस ने बढ़ती महंगाई और ईंधन की कीमतों में वृद्धि के विरोध में शनिवार को जिलाधिकारी कार्यालय में साइकिल रैली का आयोजन किया. मोदी सरकार के विरोध में जिलाधिकारी को ज्ञापन जारी किया गया.

    जिला कांग्रेस कमेटी ने शनिवार को ईंधन की कीमतों में वृद्धि और आवश्यक वस्तुओं की महंगाई के खिलाफ साइकिल रैली का आयोजन किया. आंदोलन में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता माणिकराव ठाकरे, महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष संध्या सव्वालाखे, जिलाध्यक्ष व विधायक डा. वजाहत मिर्झा, बालासाहब मांगुलकर, राहुल ठाकरे, जिप समूह की नेता स्वाति येंडे, नगरसेवक दिनेश गोगरकर, वैशाली सवाई, छोटू पावड़े, पल्लवी रामटेके, दर्शना इंगोले, वंदना भेले, संगीता पारधी, वंदना गुप्ता, जावेद अन्सारी, अतुल राउत, कृष्णा पुसनाके, विक्की राउत, ललित जैन, किरण कुमरे, कौस्तुभ शिर्के सहित कांग्रेस, महिला कांग्रेस, छात्र और विभिन्न प्रकोष्ठों के पदाधिकारी उपस्थित थे.

    मुश्किल हो गई आम आदमी की जिंदगी

    पिछले 7 सालों में महंगाई ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है. पेट्रोल- डीजल, रसोई गैस, खाद्य तेल और दालों के दाम आम आदमी की पहुंच से बाहर हो गए हैं. केंद्र सरकार द्वारा कृत्रिम मुद्रास्फीति के कारण परिवहन और अन्य वस्तुओं में मुद्रास्फीति हुई है. आम आदमी का जीना मुश्किल हो गया है. इसका कांग्रेस ने केंद्र सरकार से विरोध किया.

    डा. वजाहत मिर्झा, जिलाध्यक्ष, कांग्रेस कमेटी