जिले में बढ़ी कोरोना टेस्टिंग, 24 घंटों में मिले 1317 पाजिटिव

  • 7,792 निगेटिव, 1204 ठीक होकर लौटे, 19 की मौत

यवतमाल. कोरोना के खिलाफ लड़ाई में ट्रेसिंग, परीक्षण और उपचार बहुत महत्वपूर्ण हैं. जल्द पता चलने पर इस बीमारी का उपचार समय पर मिलने से कोरोना से बचा जा सकता है. जिले के शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों की पहचान हुई है. इसलिए लोग अपने दम पर टेस्ट के लिए आगे आ रहे हैं. परिणामस्वरूप, जिले में परीक्षण में वृद्धि हुई है. निगेटिव रिपोर्ट की संख्या भी बढ़ रही है. पिछले 24 घंटों में जिले में 7792 लोगों की निगेटिव रिपोर्ट मिली है.

कोरोना के शुरुआती दिनों में टेस्ट को लेकर नागरिकों में बहुत डर था. लक्षणों के बावजूद नागरिक परीक्षण करने से इनकार कर रहे थे. अब नागरिकों में जागरूकता बढ़ रही है. इसलिए लोग अपनी मर्जी से टेस्ट कर रहे हैं. यदि ऐसा ही रहा तो कोरोना निश्चित रूप से दूर हो सकता है. जिला प्रशासन ने नागरिकों से इसके लिए सहयोग करने की अपील की है.

जिला परिषद के स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार शुक्रवार को कुल 9109 की रिपोर्ट प्राप्त हुई है. इनमें से 1317 लोग नए से पाजिटिव निकले और 7,792 की रिपोर्ट निगेटिव मिली है. गत 24 घंटों में जिले में 1,204 लोग कोरोनामुक्त हुए है. कुल 19 कोरोनाबाधितों की मौत हो गई. इनमें अन्य जिले के 2 मृत्यु का समावेश है. सरकारी वैद्यकीय महाविद्यालय में 15 मृत्यु, डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में 2 और निजी अस्पताल में 2 की मृत्यु हुई है.

6,795 एक्टिव मरीज

वर्तमान में जिले में 6,795 एक्टिव पाजिटिव है. इनमें से अस्पताल में भर्ती 2515 है और होम क्वारंटाइन 4280 मरीज है. अबतक कुल पाजिटिव मरीजों की संख्या 57,476 हो गई है. 24 घंटे में 1,204 लोग कोरोनामुक्त हो गये हैं. जिले में स्वस्थ होनेवालों की कुल संख्या 49,308 है. जिले में कुल 1,373 कोरोनाबाधितों की मौत की संख्या दर्ज है. वर्तमान में जिले का पाजिटिविटि रेट 12.99 होकर मृत्यु दर 2.39 है.

सरकारी वैद्यकीय महाविद्यालय में मौत होनेवालों में यवतमाल शहर के 38, 44 वर्षीय पुरुष, यवतमाल तहसील के 44, 80 वर्षीय पुरुष व 78 वर्षीय महिला, वणी के 70 वर्षीय पुरुष, तहसील 30 वर्षीय महिला, दिग्रस तहसील की 22 वर्षीय महिला, घाटंजी तहसील के 76 वर्षीय पुरुष, पांढरकवड़ा के 50 वर्षीय पुरुष, बाभुलगांव के 75 वर्षीय पुरुष, झरी तहसील के 37, 38 वर्षीय पुरुष, दारव्हा तहसील के 40 वर्षीय पुरुष एवं मारेगांव के 42 वर्षीय पुरुष शामिल है. जिले के डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में मृतकों में उमरखेड तहसील की 75 वर्षीय महिला, पांढरकवड़ा तहसील के 60 वर्षीय पुरुष है.निजी अस्पताल में किनवट (जिला नांदेड) के 55 वर्षीय पुरुष एवं चंद्रपुर के 63 वर्षीय पुरुष की मौत हुई है.bमंगलवार को पाजिटिव पाए गए 1,317 मरीजों में 788 पुरुष और 529 महिला हैं.

इस तरह है तहसीलवार स्थिति

इनमें यवतमाल के 260 पाजिटिव मरीज, पांढरकवड़ा 189, वणी 157, पुसद 86, घाटंजी 83, आर्णी 82, दारव्हा 80, दिग्रस 75, झरीजामणी 65, बाभुलगाव 47, मारेगांव 40, उमरखेड 38, नेर 37, कलंब 25, महागांव 24, रालेगाव 22 एवं अन्य शहर के 7 मरीज है. शुरुआत से लेकर अबतक 442601 सैंपल परीक्षण के लिए भेजे गए. इनमें से 43,8339 प्राप्त हुए और 4262 अप्राप्त है. 38,0803 नागरिकों के सैंपल अबतक निगेटिव निकलने की जानकारी जिप स्वास्थ्य विभाग ने दी है.

कोरोनावायरस रोगियों की दिन-प्रतिदिन बढ़ती संख्या को देखते हुए नागरिकों को सरकार और प्रशासन के दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए. नियमित रूप से मास्क, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना, भीड़ से बचना आदि को सख्ती का पालन करने का आह्वान जिलाधिकारी ने किया है.