ढाणकी से गांजेगांव तक डामरी रास्ता बनाए, वंचित बहुजन आघाडी ने की मांग

    ढाणकी . गांजेगांव से ढाणकी तक सड़क का बुरा हाल है और वंचित बहुजन गठबंधन ने इस सड़क को पक्का करने की मांग की है. गांजेगांव से ढाणकी मार्ग पर गड्ढों के कारण हादसों की संख्या बढ़ गई है. कई लोगों की जान चली गई. गांजेगांव सहित मराठवाड़ा के नागरिकों को इस सड़क पर इलाज के लिए ढाणकी आना पड़ता है. अक्सर सड़क खराब होने के कारण मरीज अस्पताल नहीं पहुंच पाता है.

    कुछ मरीज असमय इलाज के कारण दम भी तोड़ चुके हैं. इस बीच गांजेगांव की एक 18 वर्षीय बच्ची इस पथरीली सड़क के कारण समय पर इलाज नहीं करा पाई. इसलिए अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई. 

    गड्ढों से भरी सडक से वाहनचालकों को त्रासदी एवं वाहन चलाते बडी कसरत करनी पडती है. ढाणकी से गांजेगांव मार्ग होते हुए हिमायतनगर जाने वाले यात्रियों की काफी भीड़ रहती है. चूंकि हिमायतनगर में एक रेलवे स्टेशन है, इस मार्ग में बड़ी संख्या में नागरिक हैं. लेकिन सड़क की बदहाली से लोगों को परेशानी हो रही है. उमरखेड़ एसडीओ ने जिलाधिकारी से ढाणकी से गांजेगांव तक पांच किलोमीटर सड़क को पक्का करने की मांग की है.

    इस अवसर वंचित बहुजन के जिला महासचिव अघाड़ी जान्टी विनकरे, तहसील प्रमुख संतोष जोगदंड, अध्यक्ष संबोधि गायकवाड़, संयुक्त सचिव विष्णु वाडेकर, दयानंद वाडेकर, मिलिंद वाडेकर, गोलू मुनेश्वर, गोंलू राउत, अमोल गायकवाड़, बंटी गायकवाड़, शेख मदार मौलाना आदि उपस्थित थे.