Crop insurance scheme will also be voluntary for debtor tenants
File Photo

यवतमाल. दिग्रस तहसील के किसानों 2019-20 वर्ष के खरीफ फसलों का बीमा मंजूर होने के बाद कुल 24 हजार 933 किसानों के 15 करोड 50 लाख 18 हजार रुपए किसानों के खातों से जमा करने की मांग का ज्ञापन किसानों ने दिग्रस तहसीलदार को सौंपा. अब तक फसल बीमे की राशि जमा न होने से किसानों में चींता है.

दिग्रस तहसील के किसानों को खरीफ 2019-20 इस फसल मौसम में उडद, कपास, मूग, तुअर, ज्वारी, सोयाबीन फसलों के लिए बीमा मंजूर किया होकर तहसील के 24 हजार 933 किसानों को 15 करोड 50 लाख 18 हजार रुपयों का बीमा मंजूर हुआ है. बीमे की राशि किसानों के खातों में आइएफएससी कोड गलत होने से जमा होना शेष है.

फिलहाल कोरोना के संक्रमण के चलते किसान आर्थिक संकट झेल रहें है. ऐसे में किसानों के खातों में फसल बीमे की राशि जमा करने पर राहत मिलेगी. तहसीलदार को ज्ञापन सौंपते समय यादव गावंडे, तानाजी घुमनर, पंकज इंगोले, पंजाबराव महल्ले, गणेश क्षीरसागर, यादव पवार, नरेंद्र पाइकराव, प्रकाश राऊत, सचिन गजभारे आदि समेत तहसील के कई किसान उपस्थित थे.