फसल ऋण से वंचित न रहे किसान, किसान स्वावलंबन मिशन के अध्यक्ष किशोर तिवारी ने अधिकारियों को दिए निर्देश

    यवतमाल. जिले में जो बैंक फसल कर्ज वितरण में पीछे है, उन्हें फसल कर्ज वितरण के लिए विशेष अभियान चलाकर किसानों को यह संदेश दें कि कर्ज मांगने वालों को फसल लोन दिया जाएगा. कोई किसान फसल कर्ज से वंचित नहीं रहेगा, इस पर विशेष ध्यान देने के निर्देश किसान स्वावलंबन मिशन के अध्यक्ष किशोर तिवारी ने दिए.

    किशोर तिवारी ने शनिवार को जिलाधिकारी कार्यालय के नियोजन भवन में जिले में खरीफ सीजन फसल लोन के वितरण के साथ ही पांढरकवड़ा वन विभाग की समस्याओं को लेकर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. इस अवसर पर जिलाधिकारी अमोल येडगे, मुख्य कार्यकारी अधिकारी डा श्रीकृष्ण पांचाल, सहायक जिलाधिकारी एवं एकीकृत आदिवासी विकास परियोजना पांढरकवड़ा परियोजना अधिकारी विवेक जॉनसन, अपर जिलाधिकारी प्रमोद सिंह दुबे, निवासी उपजिलाधिकारी ललित कुमार वरहाड़े उपस्थित थे.

    लक्ष्य का 60 प्रतिशत रहा लोन आवंटन

    तिवारी ने आगे कहा कि अब तक जिले में 1334 करोड़ 64 लाख 71 हजार रुपये के फसल लोन का आवंटन कुल लक्ष्य का 60.56 प्रतिशत रहा है और अगले 15 दिनों में बैंकों को कुल लक्ष्य का 75 प्रतिशत हासिल करना चाहिए . उन्होंने फसल लोन आवंटन में अच्छा काम करने के लिए बैंकों को बधाई दी.

    उन्होंने सुझाव दिया कि पांढरकवड़ा वन परिक्षेत्र के टिपेश्वर अभयारण्य यह राष्ट्रीय राजमार्ग के करीब है और क्षेत्र में पर्यटन विकास की बहुत गुंजाइश है. उन्होंने बाघों के हमले के लिए सुरक्षा योजना, आदिवासियों को खावटी और घरकुल का वितरण, गौण खनिज खनन, कोराना से संबंधित चिकित्सा उपायों, छिड़काव से होने वाले विषबाधा को रोकने के उपायों की समीक्षा की और संबंधितों को आवश्यक निर्देश दिए.बैठक में जिला सर्जन तरंगतुषार वारे, जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक अमर गजभिये सहित विभिन्न विभागों के संबंधित अधिकारी उपस्थित थे.