कपास घोटाला मामले की जांच करें

मुकूटबन. झरी तहसील के मुकूटबन स्थित बालाजी जिनिंग को आग लगने से सीसीआई ने खरीदी किया 1600 क्विंटल कपास जलकर खाक हुआ ऐसी शिकायत पुलिस थाने में दर्ज कराई है. लेकिन इस बारे में  विविध संदेह नर्मिाण हो रहे है.  सीसीआई कर्मियों की और संबधीतों की जांच करें ऐसी मांग समाजसेवी सुशील ओझा ने की है. व्यवस्थापकीय संचालक सीसीआई मुंबई, जिलाधिकारी यवतमाल, जिला उपनिबंधक, सहकारी संस्था यवतमाल, तहसीलदार झरीजामनी, सचिव कृषी उपज बाजार समिति झरी और थानेदार पुलिस थाना मुकुटबन को दिए शिकायत में उक्त मांग की गई है.

किसानों का अच्छा कपास सीसीआई के माध्यम से खरीद कर किसानों को राहत देने का काम सरकार ने किया था. लेकिन  व्यापारी, दलाल, ग्रेडर की सांठगाठ से किसानों को लुटने का काम यहा हुआ ऐसा आरोप शिकायत में किया गया. किसानों का अच्छा कपास रद्द कर नीजी जिनिंग में बेचने के लिए किसानों को मजबुर किया गया. नीजी जिनिंग में खरीदी किया कपास भी सीसीआई खरीदी में बडी धांदली होने का आरोप किया गया. व्यापारीयों का खराब कपास 50 से 60  क्विंटल कपास जलाकर 1600  क्विंटल कपास जलने की शिकायत दी गई. इस मामले की जांच करने की मांग  सुशील ओझा ने ज्ञापन द्वारा की है.