Dafli bajao Andolan
File Photo

घाटंजी. महाराष्ट्र के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में एसटी महामंडल की यातायात सेवा बंद है. छोटे व्यवसायियों का लॉकडाउन के दौरान काफी नुकसान हुआ है. गत चार माह का जायजा लेकर सरकार ने कुछ निर्णय तुरंत लेना जरूरी है. यह मांग वंचित बहुजन आघाड़ी के अध्यक्ष एड. प्रकाश आंबेडकर ने पहले ही की है. उक्त मांग को लेकर वंचित बहुजन आघाड़ी की ओर से बस स्टैंड पर डफली बजाओ आंदोलन किया गया.

बेकार बैठें हैं कामगार
राज्य परिवहन महामंडल की बससेवा बंद होने से एसटी कामगारों का रोजगार बंद है.  शहर से खेती उपयोगी सामग्री लाने के लिए किसानों को काफी परेशानी हो रही है. ग्रामीण क्षेत्र के लोगों के पास यातायात की सुविधा नहीं है. वे लोग एसटी महामंडल की बस पर ही निर्भर हैं. 

CM के नाम सौंपा ज्ञापन
यह यातायात तुरंत शुरू करने की मांग की गई है. उक्त मांग को लेकर मुख्यमंत्री को तहसीलदार घाटंजी के माध्यम से ज्ञापन सौंपा जाएगा. इस आंदोलन में वंचित बहुजन आघाड़ी के तहसील अध्यक्ष संघपाल कांबले, सुकाणू के शहर अध्यक्ष भगवान बन्सोड़, रा. वि. नगराले, शंकर लेनगुरे, प्रेमानंद उमरे, हरी जीवने, रमेश कुमरे, आकाश पेंदोर, पुरुषोत्तम मड़ावी, शंकर ढोके, पद्मा खोब्रागड़, निर्मला राऊत, बबीता मेश्राम, पार्वती आत्राम, प्रवीण भोयर, संजय मड़ावी, विनायक नगराले, महेंद्र भगत, मनोहर, रामटेके, संतोष ओंकार, सुरेश हुमे, सुरेश देवारे, नरेंद्र भगत, शुभम नगराले, महेंद्र धुले, असित भगत, स्वप्नील आगरकर उपस्थित थे.