A case of rape and abortion registered on the pretext of marriage

दिग्रस. एक 25 वर्षीय महिला को शादी लालच देकर उसपर अत्याचार किया. यह घटना दिग्रस तहसील में हुई और पुलिस ने पीड़िता द्वारा दिग्रस पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराने के बाद आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया है. आरोपी नीलेश धरम राठौड़ (27) निवासी आरंभी तहसील दिग्रस है.

दिग्रस तहसील के आरंभी निवासी नीलेश राठोड का सात साल से 25 साल की युवती के साथ प्रेम संबंध बनाए थे. इस बीच, शादी का लालच दिखाकर उसे 1 जनवरी 2016 से 21 जून 2020 तक बार-बार अत्याचार किया गया. पीड़िता ने शादी करने के बारे में पूछा. हालांकि, नीलेश ने मना कर दिया और उसे जान से मारने की धमकी दी. इससे नाराज युवती सीधे दिग्रस थाने पहुंची और शनिवार को शिकायत दर्ज कराई. दिग्रस पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया और उसे गिरफ्तार किया. इस कार्रवाई को पुलिस निरीक्षक सोनाजी आम्ले, सहायक पुलिस निरीक्षक श्रीकांत कडू, उप-निरीक्षक शशिकिरण नावकार, अविनाश राठोड़, ब्रम्हानंद टाले, यशवंत मालोडे ने कार्रवाई को अंजाम दिया.

दिग्रस में एक 14 वर्षीय लड़की का शोषण

दिग्रस में एक नाबालिग लड़की को शादी का लालच देखाकर उसपर अत्याचार करनेवाले आरोपी को हिरासत में लिया. आरोपी युवक योगेश महादेव तेवड़े (18) निवासी सवंगा (खु) है. उसने शहर की एक 14 वर्षीय लड़की को प्रेम जाल में फंसाया और उसे शादी का लालच देकर उसे भागकर तहसील के ग्राम फेट्री ले गया, जहां जान से मारने की धमकी देकर आरोपी ने नाबालीग का शोषण किया. इस मामले में पीडिता के परिजनों की शिकायत पर आरोपी युवक योगेश तायवड़े को गिरफ्तार किया और विभिन्न आपराधिक मामले दर्ज किए.