ZP कर्मियों के शीघ्र होंगे तबादलें, ज्येष्ठता सूची प्रकाशित, कर्मियों को अब आदेशों का इंतजार

    यवतमाल. जिला परिषद कर्मचारियों के तबादले को राज्य के सामान्य प्रशासन विभाग ने हरी झंडी दे दी है. इस संबंध में मंगलवार को सेवा वरिष्ठता सूची जारी की जाएगी. आपत्ति 20 जुलाई तक दर्ज की जा सकती है. ग्रामीण विकास विभाग द्वारा स्पष्ट आदेश जारी करने के बाद ही तबादलों की संभावना है.

    पिछले वर्ष ऐन तबादलों के दौरान कोरोना के चलते लॉकडाउन लग गया था. इस बीच जिला परिषद कर्मचारियों और शिक्षकों के तबादले रूक गए थे. इसके चलते पात्र कर्मचारियों में प्रशासन के खिलाफ जबरदस्त आक्रोश है. कोरोना प्रकोप के कारण मई स्थानांतरण सत्र स्थगित कर दिया गया था.

    कर्मचारियों के गुस्से को देखते हुए राज्य सामान्य प्रशासन विभाग ने 14 अगस्त तक तबादलों की अनुमति दे दी है. सामान्य स्थानान्तरण 30 जुलाई तक तथा शेष 14 अगस्त तक विशेष कारणों से पूर्ण किये जाएंगे. इसके तहत जिला परिषद प्रशासन ने तबादलें की तैयारी शुरू कर दी है.

    20 तक मांगे गए आपत्ति व सुझाव 

    13 जुलाई को कर्मचारियों की सेवा वरिष्ठता सूची प्रकाशित की गई है.  20 जुलाई तक आपत्ति व सुझाव मांगे गए हैं. इन आपत्तियों एवं सुझावों के निराकरण के बाद 22 जुलाई को अंतिम वरिष्ठता सूची का प्रकाशन किया जाएगा. 23 जुलाई को प्राथमिकता सूची तैयार की जाएगी. 26 जुलाई को काउंसलिंग के जरिए ट्रांसफर की प्रक्रिया की जाएगी. जिला परिषद प्रशासन की ओर से पत्र जारी किया गया है. ग्रामीण विकास विभाग ने अभी तक किसी प्रकार का स्थानांतरण आदेश जारी नहीं किया है. योग्य कर्मचारी अब ग्रामीण विकास विभाग के आदेश का इंतजार कर रहे हैं. 

    10 वर्षों से डटे हैं एक ही स्थान पर 

    कर्मचारी वह हैं जिन्होंने एक ही मुख्यालय में 10 साल से अधिक समय तक सेवा की है. अनुरोधित स्थानान्तरण में कर्मचारियों की व्यक्तिगत कठिनाइयां, पति-पत्नी के स्वीकारोक्ति स्थानान्तरण शामिल हैं. कर्मचारियों को स्थानांतरित करते समय उस स्थान पर स्थानांतरित करना संभव नहीं है, जहां उन्होंने अतीत में काम किया है. 10 प्रश तक ट्रांसफर किया जा सकता है.

    कई कर्मचारी नियमित रूप से जिला परिषद में बदलाव के लिए कहते हैं, फिर भी अधिकांश कर्मचारी प्रतिनियुक्ति के माध्यम से सुविधाजनक स्थानों पर तैनात हैं. कई बार यह भी सामने आया है कि अधिकारी संबंधितों को सलाह दे रहे हैं.