exam
File Photo

    • प्रशासन द्वारा जारी कोविड नियम और बंदोबस्त में हुई परीक्षा

    अकोला. अकोला में रविवार को 18 उप केंद्रों पर सुबह और दोपहर इस तरह दो सत्रों में महाराष्ट्र लोकसेवा आयोग की परीक्षा ली गयी है. जिसमें सुबह के सत्र में 4,977 परीक्षार्थियों में से 3,213 परीक्षार्थी उपस्थित तथा 1,764 परीक्षार्थी अनुपस्थित पाए गए हैं. इसी तरह दोपहर के सत्र में कुल 4,977 में से 3082 परीक्षार्थी उपस्थित और 1,895 परीक्षार्थी अनुपस्थित पाए गए हैं.

    इस तरह दो दोनों सत्रों में कुल 6,295 परीक्षार्थियों ने यह परीक्षाएं दी है और 3,659 परीक्षार्थी अनुपस्थित पाए गए हैं. महाराष्ट्र लोक सेवा आयोग राज्य सेवा (पूर्व) परीक्षा का आयोजन किया गया है. परीक्षा 18 उप-केंद्रों पर सुबह 10 से दोपहर 12 बजे और दोपहर 3 से शाम 5 बजे तक आयोजित की गई. 

    परीक्षा के लिए नियुक्त कर्मचारी

    एमपीएससी परीक्षा के लिए जिले के 18 केंद्रों पर 5 समन्वय अधिकारी, 18 उप केंद्र प्रमुख, 76 पर्यवेक्षक, 244 समवेक्षकों की नियुक्ति की गयी थी. यह जानकारी निवासी उप जिलाधिकारी संजय खड़से ने दी है. 

    परीक्षा केंद्रों पर काविड नियमों का पालन

    परीक्षा केंद्र पर कोविड प्रतिबंधक उपाय योजना की गयी थी. नियुक्त अधिकारियों और कर्मचारियों का कोरोना परीक्षण किया गया था. प्रत्येक उप केंद्र पर बेसीक कोविड किट, उमेदवार के लिए हैन्डग्लोज, मास्क, सैनिटाइजर प्रदान किया गया. इसी तरह नियुक्त किए गए प्रत्येक अधिकारी और कर्मचारी को फेसशील्ड, हैन्डग्लोज, मास्क और सैनिटाइजर उपलब्ध किया गया था. लक्षण दिखाई देने वाले परीक्षार्थी के लिए पीपीई कीट तैयार रखी गयी थी. 

    जिलाधिकारी के मार्गदर्शन में हुई परीक्षाएं

    जिलाधिकारी जीतेंद्र पापलकर के मार्गदर्शन में निवासी उप जिलाधिकारी प्रा.संजय खड़से ने परीक्षा नियंत्रक के रूप में काम संभाला. साथ ही परीक्षा को सुचारू रूप से शुरू करने के लिए उप जिलाधिकारी बाबासाहब गाढवे, उप जिलाधिकारी सदाशिव शेलार, भूसंपादन अधिकारी विश्वनाथ घुगे, सहायक संचालक जवंजाल, सहायक जिला सूचना व विज्ञान अधिकारी अनिल चिंचोले ने कार्य किया. 

    पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त

    पुलिस अधीक्षक जी. श्रीधर के मार्गदर्शन में तथा उप विभागीय पुलिस अधिकारी सचिन कदम के नेतृत्व में जिले के सभी 18 परीक्षा केंद्रों पर तगड़ा पुलिस बंदोबस्त रखा गया था.