It is necessary to follow the health patients, the departmental commissioner took stock

अकोला. जिले की कोरोना वायरस संक्रमण की वर्तमान स्थिति के संदर्भ में विभागीय आयुक्त पीयूष सिंह ने जायजा लिया. जिलाधिकारी कार्यालय में आयोजित बैठक में जिलाधिकारी जीतेंद्र पापलकर, पुलिस अधीक्षक अमोघ गावकर, स्वास्थ्य उपसंचालक डा. फारुकी, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डा. सुभाष पवार, मनपा आयुक्त संजय कापडणीस, अतिरिक्त जिलाधिकारी नरेंद्र लोणकर, सरकारी मेडिकल कालेज के डा. अष्टपुत्रे, डा. शिरसाम, जिला शल्य चिकित्सक डा. आरती कुलवाल, डा. राठोड, मनपा के स्वास्थ्य अधिकारी डा. फारुख शेख, निवासी उपजिलाधिकारी संजय खडसे, उपविभागीय अधिकारी डा. नीलेश अपार, उपजिलाधिकारी बाबासाहब गाढवे आदि उपस्थित थे.

मेडिकल कालेज को 36 वेंटीलेटर मिले
इस वक्त विभागीय आयुक्त ने जिले में कोरोना की वर्तमान स्थिति , संक्रमितों तथा कोरोना से होने वाली मौतों के संदर्भ में जायजा लिया. इसके साथ ही उपचार की पद्धति का तथा उपचार सुविधाओं की उपलब्धता का जायजा लिया. शहर के पाजिटिव मरीजों के संपर्क के व्यक्तियों की जांच पर अधिक जोर दें, अन्य पुरानी बीमारीग्रस्त व संपर्क के जोखिम के व्यक्तियों की जांच जल्द से जल्द होने की दृष्टि से नियोजन करने के आदेश दिए.

सरकारी मेडिकल कालेज को प्राप्त 36 वेंटीलेटर विभाग को तुरंत कार्यान्वित करने की भी सूचना दी. जिन मरीजों को ठीक होने के बाद घर पर रवानगी की गई है, ऐसे मरीजों का दैनिक फॉलोअप 14 दिनों तक लेने की आदेश दिए. रैपिड टेस्ट किट खरीदी की प्रक्रिया जल्द पूरी कर अधिकाधिक संदिग्ध व्यक्तियों की जांच करने के निर्देश भी विभागीय आयुक्त पीयुष सिंह ने दिए हैं.