लगातार अनुपस्थित ग्राम सेवक को हटाए, उप सरपंच सहित पांच सदस्यों ने की मांग

    अकोट. कोरोना संकट काल में ग्राम सेवक विनायक वायाल लगातार अनुपस्थित रहते हैं. उनकी मनमानी से गांव संकट में है. इस कारण उन पर कार्रवाई करके दूसरे कर्तव्यदक्ष ग्राम सेवक की नियुक्ति की जाए. यह मांग जऊलका ग्राम पंचायत के उप सरपंच दीपक शेटे तथा पांच ग्राम पंचायत सदस्यों ने गट विकास अधिकारी को निवेदन देकर की हैं. कोरोना की स्थिति में ग्राम सेवक विनायक वायाल समय-समय पर उनके अनुरोध के बावजूद गांव नहीं आए.

    ऐसा आरोप उप सरपंच दीपक शेटे, संजय इंगले, छाया अंभोरे, सुप्रिया धांडे, सुशीला अवचार, सूचित तांदले ने किया है. इस संबंध में उप सरपंच दीपक शेटे ने समूह विकास अधिकारी को निवेदन देकर ग्राम सेवक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. जउलका ग्राम पंचायत के सदस्य पिछले चार माह से ग्राम पंचायत में ग्राम सेवक से त्रस्त हो चुके हैं. ग्राम सेवक ने मनमाने ढंग से मामलों को चलाया है. पिछले चार माह से ग्राम सेवक ग्राम पंचायत कार्यालय में सिर्फ तीन बार आये है.

    ग्राम सेवक ने गांव के लोगों के स्वास्थ्य के लिए आया हुआ 14 वित्त आयोग का निधि अभी तक खर्च नही किया है. यह शिकायत ग्राम पंचायत सदस्यों ने की हैं. साथ ही कोरोना के मरीज गांवों में पाए जाने के बाद ग्राम पंचायत के माध्यम से उपाय किए गए. लेकिन ग्राम सेवक नदारद रहे. जब ग्रामीणों ने गांव में कोविड केयर सेंटर खोलना चाहा तो ग्राम सेवक से सहयोग न मिलने से नागरिक नाराज हो गए. ग्रामसेवक विनायक वायाल हमेशा गंभीर मुद्दों की अनदेखी कर रहे हैं.

    ग्राम पंचायत सदस्यों द्वारा पूछे जाने पर ग्राम सेवक किसी भी प्रकार का मार्गदर्शन नहीं देते हैं. ग्रामसेवक के इस मनमानी से गांव के नागरिक त्रस्त हो गए है. ऐसे अधिकारी की बदली करके एक कर्तव्यदक्ष अधिकारी की नियुक्ति की जाए. ऐसी मांग उप सरपंच सहित पांच सदस्यों ने समूह विकास अधिकारी से की हैं. इस मामले में उप सरपंच दीपक शेटे ने कहा कि यदि इस ग्राम सेवक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाती है, तो तहसील कार्यालय के सामने अनशन आंदोलन किया जाएगा. 

    14 वें वित्त आयोग की ओर से स्वास्थ्य पर एक रुपया भी खर्च नहीं किया. कोरोना काल में हमने अपने दम पर उपाय किए. ग्रामसेवक अकोट में रह रहे थे. – प्रकाश घनबहादुर, नागरिक, जऊलका.

    पिछले साल 14 वें वित्त आयोग के कोष से स्वास्थ्य संबंधि बहुत काम किया है. बाकी का काम भी हम करेंगे. सरपंच और उप सरपंच की राजनीति में बेवजह मेरी बलि दी जा रही है.- विनायक वायाल, ग्रामसेवक, जऊलका.

    ग्राम सेवक के खिलाफ शिकायत प्राप्त हुई है. इसे आगे की कार्रवाई के लिए विस्तार अधिकारी के पास भेज दिया गया है.- किशोर शिंदे,