मास्टर माइंड सहित 2 आरोपी गिरफ्त में, 8 महीने बाद क्राइम ब्रांच ने पकड़ा

    अमरावती. शहर के माधव नगर में बहुचर्चित डकैती प्रकरण में क्राइम ब्रांच ने मुख्य आरोपी सहित 2 लोगों को बुधवार की देर रात गिरफ्तार किया. आरोपी समीर शाह नजीर शाह (26, बाजारपुरा, अंबाडा,मोर्शी) तथा उसका साथीदार मोहम्मद आवेज मोहम्मद आरीफ (30, गवलीपुरा ) है. मास्टर माइंड आरोपी समीर शाह दो वर्ष पहले माथणे के घर किरायेदार बनकर रहा था. इसी दौरान उसने माथणे परिवार के घर डकैती डालने की योजना बनाई थी.

     साइंटीफिक तरीके से लगाया सुराग

     7 नवंबर 2020 को माधव नगर निवासी शुभांगी माथणे के घर डकैती की घटना हुई थी. शुभांगी माथणे के पति किसी काम से बाहर गए थे. वह घर में अकेली थी. इसी दौरान देसी कट्टे का डर दिखाकर 2 आरोपी घर में घूसे. जिन्होंने शुभांगी माथणे के हाथ पर चाकू से वार कर हाथ बांध दिए थे. जिन्होंने घर से 3 लाख 86 हजार रुपए के आभूषण छीन लिये. इस दौरान शुभांगी माथणे का पति घर पहुंचा. जिससे मारपीट कर आरोपी फरार हो गए.

    इस दौरान बाइक चालक को रोककर मारपीट कर हवा में फायरिंग कर बाइक को लेकर फरार हो गए. सूचना पर राजापेठ पुलिस वहां पहुंची. पुलिस ने आरोपियों की तलाश में कई प्रयास किये, लेकिन कोई जानकारी हाथ नहीं लगी है. इस दौरान साइन्टीफिक तरीके से क्राइम ब्रांच ने जांच कर 2 आरोपियों को 8 माह बाद गिरफ्तार किया. 

    बैग लिफ्टर समीर बना किरायेदार

    समीर शाह रिकार्डधारी क्रिमिनल है. जिसने 2 वर्ष पहले चांदुर बाजार में बैग लिफ्टिंग की थी. जिसके बाद खुद को छिपने के लिए उसने खुद को विद्यार्थी बताकर माधव नगर में माथणे के घर किरायेदार बनकर 1 महीना रहा. इसी दौरान उसने माथणे परिवार की हलचल व व्यवहार से संबंधित जानकारी इकठ्ठा की. माथणे सराफा व्यापारी होने से उसके घर बड़ा हाथ मारने के उद्देश्य से 4 आरोपियों के साथ मिलकर योजना बनाई. 2 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जबकि अन्य 2 आरोपियों की तलाश चल रही है. आरोपियों को राजापेठ पुलिस के कस्टड़ी में दिया है.