ZP School
Representational Pic

अमरावती. छात्रों को परस्पर शाला छोड़ने के दाखिले देने का कारनामा महानगरपालिका के बड़नेरा जूनीबस्ती स्थित शाला में हुआ है. पहले ही पटसंख्या कम होते हुए 1 दो नहीं बल्कि 25 से 30 छात्रों को कुछ दिनों के अंतराल से स्कूल छोड़ने के दाखिले दिए गए. विशेष बात यह यह है कि शिक्षणाधिकारी को अंधेरे में रखकर यह कारनामा किए जाने का मामला सामने आया है. इतना ही नहीं तो किसी भी प्रकार का अनुमति लिए बगैर कक्षा 6,7 और 8 वीं कक्षा भी शाला में शुरू रखने की जानकारी सामने आयी. विशेष बात यह है कि विधायक रवि राणा ने गोद ली शाला में यह प्रकार होने से राजनीतिक घमासान होने की संभावना है.

शिक्षा विभाग के आदेश को तिलांजलि

बड़नेरा जूनीबस्ती में महापालिका उर्दू शाला क्रमांक 3 में 2018, 2019,2020 इन तीन वर्ष में कई छात्रों ने शिक्षणाधिकारी की लिखित अनुमति के बगैर स्कूल छोड़ने के दाखिले वितरित किए गए. मनपा शाला में पटसंख्या कम न हो इसलिए सभी मुख्याध्यापकों ने शिक्षणाधिकारी के लिखित पत्र के बगैर शाला छोड़ने के दाखिले नहीं दे ऐसे आदेश 24 मार्च 2015 को जारी किए. उसी तरह 5 जून 2018 को तत्कालीन अतिरिक्त आयुक्त ने सभी मुख्याध्यापकों को पत्र देकर अनुमति लिए बगैर छात्रों स्कूल छोड़ने का प्रमाणपत्र नहीं देने का पत्र दिया. ऐसे होते हुए भी शिक्षा विभाग के आदेशों को तिलांजलि देकर मुख्याध्यापक ने पटसंख्या कम करने का गंभीर मामला सामने आया है.

आमसभा में तैयार किया था प्रस्ताव

मनपा उर्दू लड़़कियों की स्कूल क्रमांक 3 में 1 से 5 तक कक्षाओं को अनुमति दी गई है. लेकिन मुख्याध्यापक ने अनधिकृत रुप से 6,7 और 8 वीं की कक्षाएं शुरू रखने की जानकारी सामने आयी है. इस विषय को ध्यान में रखते हुए मनपा की आमसभा में सभी विषयों पर चर्चा की गई. छात्रों का नुकसान न हो इसलिए 6 से 8 वीं के छात्रों का मनपा उच्च प्राथमिक शाला क्रमांक 10 में समायोजन किया गया. लेकिन अनुमति न लेते हुए कक्षा शुरू रखना, शालेय पोषाहार, गणवेश पर खर्च करना भी गलत होने से सभागृह ने भी आपत्ति दर्ज की थी. साथ ही दोषियों पर कार्रवाई करने का निर्णय भी दिया था.

एमएलए राणा ने गोद ली थी स्कूल

सर्वसामान्य लोगों के पाल्यों शिक्षा ले सके इसलिए मनपा की शालाएं शुरू रखना अनिवार्य है. इसके लिए मनपा शाला में पटसंख्या बढ़ाने के उद्देश्य से भी बडनेरा जूनीबस्ती में मनपा उर्दू उच्च प्राथमिक शाला क्रमांक 10 और मनपा उर्दू प्राथमिक कन्या शाला क्रमांक 3 ऐसी दो शाला बड़नेरा निर्वाचन क्षेत्र के विधायक रवि राणा ने वर्ष 2016 में गोद ली. इसके अलावा शाला के विकास हेतु 10 लाख रुपयों की निधि भी उपलब्ध करायी. जनप्रतिनिधि जहां मनपा की शालाएं जीवित रखने प्रयास कर रहे है वहीं दूसरी ओर शिक्षक ही छात्रों को दाखिले देकर शालाओं की पटसंख्या कम करने में लगे है.

छात्रों को थमायी टीसी

शाला क्रमांक 3 में अनधिकृत रुप से दाखिल देने के कारण छात्र अन्य शाला में प्रवेश ले रहे है. कुछ माह के अंतराल से 25 से 30 छात्रों को शाला छोड़ने का दाखिला देने का मामला सामने आया है. शिक्षणाधिकारी की अनुमति के बगैर यह मामला होने से शिक्षकों पर कार्रवाई होना जरुरी है. इस संदर्भ में मनपा शिक्षणाधिकारी को भी शिकायत दी गई है.-मुमताज खान अकबर खान

जांच होगी

अनुमति नहीं लिए बगैर स्कूल छोड़ने के दाखिले देने की शिकायत प्राप्त हुई है. इस शिकायत पर जांच की जायेगी और उचित कार्रवाई भी होगी.- डॉ. अब्दूल राजीक, शिक्षणाधिकारी मनपा