police

अमरावती. शहर में कोरोना संक्रमण से  कोरोना योध्दा सिटी पुलिस के एएसआई समेत एसआरपीएफ जवान की मौत हो गई. शनिवार को इन 2 कोरोना योध्दाओं की मौत से महकामे में मातम छा गया है. मृतकों में शहर कंट्रोल रुम में कार्यरत एएसआई (53) तथा एसआरपीएफ ग्रुप 9 के जवान (27) का समावेश है. 

सिटी पुलिस में अब तक 2 कर्मियों की मौत
53 वर्षीय एएसआइ की 31 अगस्त को अचानक तबीयत खराब होने से पीडीएमसी में भरती हुए. यहां कोरोना टेस्ट करने पर 2 सितंबर को रिपोर्ट पॉजिटिव आयी. सांस लेने में तकलीफ होने के कारण उन्हें 6 सितंबर को दयासागर हास्पीटल में भरती किया. यहां हालत गंभीर होने से डाक्टरों ने प्लाज्मा चढने की सलाह दी. जिससे नागपुर के इंदिरा गांधी मेडिकल कालेज से शहर पुलिस ने प्लाज्मा लाकर शुक्रवार को चढाया, लेकिन उनकी स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ.

शुक्रवार की देर रात 11 बजे एएसआइ ने दम तोड दिया. एएसआई 17 मार्च 1986 को पुलिस महकामे में भरती हुए थे, जिन्होंने नागपुरी गेट, ट्राफिक विभाग, कंट्रोल रुम समेत अन्य जगह सेवा दी. उनके परिवार में शिक्षिका पत्नी, बेटा व बेटी है. शहर पुलिस में कोरोना संक्रमण से यह दूसरी मौत है, इससे पहले 31 जुलाई को कोतवाली थाने में कार्यरत महिला कर्मी की कोरोना से मौत हुई थी. शहर में अब तक 77 पुलिस कर्मी संक्रमित हुए है, जिसमें से 2 की मौत हो गई है.

एसआरपी जवान ने दम तोड़ा
एसआरपीएफ ग्रुप 9 में कार्यरत 27 वर्षीय जवान की कोरोना से मौत हो गई. 4 माह पहले ही उसका विवाह होने की जानकारी है. ड्यूटी के दौरान कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने से उसकी कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आयी. एमरजेन्सी इलाज के लिए उसे नागपुर रेफर किया गया. यहां बेड उपलब्ध ना होने से वापस अमरावती लाया गया. यहां इलाज दौरान उसने दम तोड दिया.