कृषि मंडी में 19.79 लाख की जालसाजी, आरोपी निरंजन बोहरा पर एफआईआर

    अमरावती. अमरावती कृषि उत्पन्न बाजार समिति में अडत व्यापारियों से खेत माल खरीद कर बिल का भुगतान नाकर परस्पर फरार हो जाने वाले आरोपी निरंजन बोहरा के खिलाफ गाडगे नगर पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है. अडत दूकानदार व्यापारी शशांक केशव हिवसे (45 प्रभात कॉलोनी) की रिपोर्ट पर निरंजन बोहरा के खिलाफ जालसाजी व विश्वासघात करने के तहत मामला दर्ज किया है.

    फोन बंद, घर पर ताला 

     पुलिस रिपोर्ट में शशांक हिवसे ने बताया कि आरोपी निरंजन के साथ उसकी जान पहचान थी, आरोपी निरंजन उसके पास से खेत माल खरीदा था. जिसके बिल बाद में अदा किया करता था, लेकिन 20 नवंबर 2020 को खेतमाल का व्यवहार किया. जिसके बदले उसने चेक देने की बात कही थी, लेकिन यह चेक उसने नहीं दिए. कई बार फोन लगाने के बावजूद उसका मोबाइल स्विच्ड ऑफ था. जिसके कारण शशांक उसके घर पहुंचा तो वहां ताला लगा हुआ था. 

    कई व्यापारियों से ठगी 

    निरंजन ने उसके पास से 19 लाख 79 हजार 048 रुपए का माल लिया था, लेकिन उसकी रकम नहीं लौटाई. अपने साथ हुई इस जालसाजी की शिकायत कृषि उत्पन्न बाजार समिति से की, समिति ने जांच कर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. बताया जाता है कि निरंजन ने शशांक की तरह और कई व्यापारियों को ठगा है. जिससे मामला करोड़ों रुपए का हो सकता है. पुलिस जांच कर रही है.