start the city's weekly market; Vegetable vendors demand
File Photo

    अमरावती. कोरोना की संभावित तीसरी लहर कहर ना बने इसलिए लाकडाउन की पाबंदियां के तहत सोमवार से शुक्रवार सभी प्रकार की दूकानें सुबह 7 से दोपहर 4 बजे तक खोलने की छूट है. वहीं हर शनिवार व रविवार को जीवनावश्यक छोड अन्य सभी दूकानें बंद रख कर वीकेंड लाकडाउन का पालन भी बंधनकारक किया गया है. लेकिन शहर व जिले में लोग वीकेंड लाकडाउन का पालन नहीं कर रहे है. वीकेंड में भी सभी प्रकार की दूकाने अनेक इलाकों में खुली दिखाई पड़ी. हालांकि बाजारों में भीड़ इन दो दिनों में कम है. 

    कार्रवाई दल भी नदारद 

    कोरोना प्रतिबंधक नियमों का कड़ाई से पालन कराने के लिए जिला प्रशासन, महानगर पालिका व पुलिस विभाग ने विभिन्न कार्रवाई दल बनाए है. लेकिन सभी कार्रवाई दल नदारद है. आला अधिकारीयों ने भी अपने अधिनस्त कार्यरत कार्रवाई दलों को छूट दे दी है. जिससे विगत महिने भर से एक भी प्रतिबंधक कार्रवाई नहीं की गई. इसी का फायदा अब दूकानदार व व्यापारी उठा रहे है. अधिकांश दूकानें पुरे शटर व कुछ दूकानें आधा शटर खोल कर कारोबार कर रहे है. 

    मदिरालय शुरु, मंदिर बंद 

    कोरोना लाकडाउन में भी शराब की दूकानें तथा मदिरालय अविरत शुरु रखे जा रहे है. लेकिन मंदिरों पर ताले कायम है. यह कैसा कानुन है, यह सवाल अब सभी पुछ रहे है. कोरोना संक्रमण कम होने के बाद जहां सभी प्रकार का व्यापार खुला हो गया है. जिम, बार, होटल से लेकर सभी प्रकार का कारोबार शुरु है. फिर मंदिरों को ही बंद रख कर ऐसे कौन से संक्रमण पर काबू पाने का नियोजन प्रशासन ने किया है. यह सवाल भी अब सब पुछ रहे है.