Water on Road

    • जिला परिषद प्रशासन का निषेध

    चांदूर बाजार. तहसील में कर्मयोगी गाडगे बाबा का श्रध्दास्थान नागरवाडी गांव के सडक निर्माण का काम जिला परिषद प्रशासन के अडियल रवैए के कारण लंबे अरसे से रुका हुआ है. विगत एक वर्ष से लगातार मांग करने के बावजूद जिला परिषद अध्यक्ष के निर्वाचन क्षेत्र का यह मार्ग गटर बनने का आरोप वणी ग्रामपंचायत के उपसरपंच मंगेश देशमुख ने लगाया है. इस मार्ग का निर्माण नहीं होने से वणी के नागरिकों ने इस मार्ग के कीचड में लोटांगण कर जिप प्रशासन का प्रतिकात्मक निषेध किया है. 

    जिप अध्यक्ष के निर्वाचन क्षेत्र का मार्ग

    गाडगे बाबा महाराज का अंतिम श्रद्धास्थान तथा पर्यटन क्षेत्र नागरवाडी में वणी – नागरवाडी मार्ग जिला परिषद निर्माण विभाग के तहत आता है. 3 किलोमीटर का यह मार्ग जिला परिषद अध्यक्ष के निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत आता है. इस मार्ग पर कीचड होने से आवाजाही मुश्किल हो गई है. बडे बडे गड्ढों में पानी भरने से गटर बन गया है. इस मार्ग के लिए नागरवाडी संस्था की ओर से जिला परिषद प्रशासन को बार बार निवेदन दिया गया.

    लेकिन जिला परिषद प्रशासन केवल राजनीति के चलते यह मार्ग नहीं बनाने का आरोप लगाया गया है. जिसके लिए सडक पर उतरकर आंदोलन की चेतावनी नागरिकों ने जिला परिषद प्रशासन को दी है. वनी के नागरिकों ने 15 जून को जिला परिषद अध्यक्ष, मुख्य कार्यपालन अधिकारी तथा निर्माण विभाग को निवेदन देकर सडक निर्माण की मांग की थी. लेकिन कोई संज्ञान नहीं लिए जाने से ग्रामस्थों ने तीन घंटे कीचड में बैठकर यह आंदोलन किया. 

    जिप में फेकेंगे कीचड

    यदि अब भी जिप प्रशासन ने सडक निर्माण का काम शुरू नहीं किया तो सडक का कीचड जिप निर्माण विभाग में फेंकने की चेतावनी ग्रामपंचायत के उपसरपंच तथा प्रहार किसान संगठन के अध्यक्ष मंगेश देशमुख के साथ प्रफुल नवघरे, सुनील मोहोड, अमोल शेलके, वसंत नवघरे, नितीन शेलके, रवींद्र घोम, सागर धनसंडे, प्रफुल सोलव, संदीप ढोकल, मयूर देशमुख, शरद शेलके, अनिल धर्माले, अतुल राऊत आदि ने दिया है.