राहुल गांधी के साथ धक्का मुक्की के विरोध में कांग्रेस ने किया आंदोलन

औरंगाबाद. उत्तर प्रदेश के हथरस में एक दलित परिवार की लड़की के साथ कथित रूप से बलात्कार कर हत्या करने की घटना सामने आने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी व प्रियंका गांधी उस लड़की के परिवार से मिलने जा रहे थे. इस दौरान  यूपी पुलिस ने राहुल गांधी व प्रियंका गांधी को रोककर राहुल गांधी के साथ धक्का मुक्की की. इस घटना से गुस्साए शहर कांग्रेसियों ने गुरुवार शाम शहर के क्रांति चौक में जोरदार प्रदर्शन किया.

प्रदर्शनकारी कांग्रेसियों ने यूपी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रतिमा जलाने का प्रयास किया. कांग्रेसियों द्वारा रास्ता रोको आंदोलन करने से क्रांति चौक में काफी देर तनाव निर्माण हुआ था. पुलिस ने सभी आंदोलन कारियों को गिरफ्तार कर बाद में रिहा किया. कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ धक्का-मुक्की के दौरान राहुल गांधी के जमीन पर गिरेने की खबर चंद मिनटों में पूरे देश में फैली. इस घटना से कांग्रेसियों में गुस्से की लहर दौड़ गई. 

शहर कांग्रेस कमेटी का जोरदार प्रदर्शन 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ किए गए अभ्रद के विरोध में प्रदर्शन करने वालों में यूथ कांग्रेस, एनएसयूआई, अनुसूचित जाति जनजाति विभाग, ओबीसी सेल के पदाधिकारियों ने भी हिस्सा लिया. प्रदर्शन का नेतृत्व शहराध्यक्ष हिशाम उस्मानी, पूर्व मंत्री अनिल पटेल, पूर्व शहराध्यक्ष सैयद अकरम ने किया. आंदोलन में  इकबाल सिंह गिल, मुजफ्फर खान, शरद जाधव, निलेश पटेल, मोहित जाधव, निलेश अंबरवाडीकर, संतोष भिंगारे, मोहसीन खन, फैयाजोददीन  सैयद, निसार खान, मुजस्सीर अन्सारी, आमेर रफी खान, अनिल मालोदे, अरुण सिरसाठ, जयप्रकाश नरनावरे, संजय वाघमारे, मोईन कुरैशी, साहेबराव बनकर, अकिल पटेल, सुमेद निमगांवकर, कैसर शेख शामिल थे. पुलिस ने सभी आंदोलनकारियों को गिरफ्तार कर बाद में रिहा किया.