लॉकडाउन में उर्वरक की आपूर्ति सुचारू रूप से जारी रहेगी

औरंगाबाद.  जिला कलेक्टर उदय चौधरी ने कहा कि जिले में उर्वरकों की आपूर्ति लॉकडाउन अवधि के दौरान भी सुचारू रूप से जारी रहेगी और उर्वरकों की आवश्यक मात्रा किसानों को आसानी से उपलब्ध होगी. जिले में लॉकडाउन अवधि के दौरान उर्वरकों की आपूर्ति और वितरण को लेकर कलक्ट्रेट में हुई बैठक में जिला कलेक्टर उदय चौधरी ने इस संबंध में निर्देश दिए.

रेजिडेंट डिप्टी कलेक्टर संजीव जाधव, जिला कृषि अधीक्षक डॉ.तुकाराम मोटे, कृषि विकास अधिकारी आनंद गंजवार के साथ उर्वरक कंपनियों के प्रतिनिधि, माथाड़ी मजदूरों के साथ-साथ ट्रक ट्रांसपोर्ट यूनियनों के प्रतिनिधि, रासायनिक उर्वरक कंपनियों के परिवहन और हैंडलिंग संगठन मौजूद थे.

पास जारी करने का निर्देश 

जिला कलेक्टर उदय चौधरी ने कहा कि जिले में यूरिया और अन्य उर्वरकों की पर्याप्त उपलब्धता होगी. इस लॉकडाउन अवधि के दौरान, उर्वरकों की आपूर्ति पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा और सभी किसान अपनी आवश्यकताओं के अनुसार आसानी से यूरिया और अन्य उर्वरकों का लाभ उठा सकेंगे. इस संबंध में, माथाड़ी श्रमिकों, उर्वरक कंपनी के प्रतिनिधियों, ट्रक ड्राइवरों को उर्वरक वितरण के कार्य को सुचारू रूप से जारी रखना चाहिए. कलेक्टर ने ट्रक ड्राइवरों, माथाड़ी श्रमिकों, उर्वरक कंपनियों के कर्मचारियों, परिवहन और हैंडलिंग कंपनियों के कर्मचारियों को पास जारी करने का भी निर्देश दिया और आश्वासन दिया कि पुलिस विभाग द्वारा उर्वरकों के वितरण में कोई समस्या नहीं होगी. 

किसानों कों परेशान होने की जरूरत नहीं 

जिला कलेक्टर उदय चौधरी ने उर्वरक कंपनियों को निर्देश दिया कि लॉकडाउन अवधि के दौरान औरंगाबाद जिले के लिए नियोजित खाद को औरंगाबाद जिले के रेलवे रेक को दूसरे जिले में न मोड़ें, क्योंकि वहां लॉकडाउन है. लॉकडाउन अवधि के दौरान जिले में उर्वरकों की पर्याप्त आपूर्ति होगी.आरसीएफ, कृभको, इफको  और जिएसएफसी इन  4 उर्वरक कंपनियों से 7500 से 8000 टन यूरिया उर्वरक औरंगाबाद जिले को मिलेगा. इसलिए किसानों कों परेशान होने की जरूरत नहीं हैं. कलेक्टर ने कृषि विभाग को मांग के अनुसार यूरिया खाद की आपूर्ति करने के निर्देश दिए.