There should be only one policy on lockdown

 – पूर्व उपमहापौर राजेन्द्र जंजाल की पहल 

औरंगाबाद. औरंगाबाद शहर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना बड़े पैमाने पर कहर बरपा रहा है. ऐसे में जिला प्रशासन ने 4 से 12 जुलाई के दरमियान शहर से सटे वालूज क्षेत्र में कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है. वहीं, दूसरी तरफ शहर के पूर्व उपमहापौर राजेन्द्र जंजाल ने परिसर में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए शिवाजी नगर में कल से 3 दिन तक जनता कर्फ्यू लगाने के लिए पहल की है. मंगलवार से गुरुवार तक शिवाजी नगर में सभी व्यवहार 100 प्रतिशत  बंद रहेंगे.

सभी जरुरी सुविधाएं भी बंद रहेंगी

पूर्व उपमहापौर राजेन्द्र जंजाल ने नवभारत को बताया कि शहर में कोरोना का कहर जारी है. हर दिन शहर में 100 से अधिक संक्रमित मरीज पाए जा रहे है. कोरोना संक्रमितों की चैन तोडऩे के लिए शिवाजी नगर परिसर में जनता कर्फ्यू लगाने का  निर्णय लिया गया. 3 दिन जनता कर्फ्यू में सभी जरुरी सुविधाएं भी बंद रहेंगी. यहां तक की परिसर के मेडिकल भी पूरी तरह बंद रहेंगे. शिवाजी नगर वासियों से पूर्व उपमहापौर जंजाल ने अपील की कि  वे आगामी 3 दिन तक घर से बाहर ना निकले. परिसर के जिन लोगों को तत्काल में दवाईयों की जरुरत पडी तो वे उनसे संपर्क करें. कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को रोकने के लिए शिवाजी नगर में जनता कर्फ्यू रहेगा.  

डीसीपी ने ली बैठक 

उधर, नए शहर के कई इलाकों में कोरोना संक्रमित मरीज पाए जाने से लोगों में दहशत का माहौल है. कोरोना संक्रमितों की संख्या कम कर शहर से कोरोना का खात्मा करने के लिए शहर जोन-2 के डीसीपी डॉ. राहुल खाडे,  पुंडलीक नगर  थाने के प्रभारी पीआई  घनशाम सोनवने, जवाहर नगर थाने के पीआई संतोष पाटिल के अलावा पूर्व उपमहापौर राजेन्द्र जंजाल सहित कई प्रतिष्ठित नागरिकों के उपस्थिति मे बैठक ली गई. बैठक में कोरोना को लेकर विस्तार से चर्चा किए जाने की जानकारी जंजाल ने दी.