File Photo
File Photo

भंडारा (का). राष्ट्रीय तथा राज्यमार्ग को जोड़ने वाले भिलेवाड़ा, खिड़की इस 18 किलोमीटर के रास्ते पर किसी भी बड़ी दुर्घटना का कारण बन सकता है. कहा जा रहा है कि जिस विभाग को इस रास्ते की हालत पर ध्यान रखना चाहिए था, उसने इल ओर ध्यान नहीं दिया.

भंडारा से करडी नामक जिला मार्ग नागपुर से रायपुर राष्ट्रीय महामार्ग क्रमांक 6 तथा रामटेक से लाखनी राज्य मार्ग को खड़की से भिलेवाडा तक जोड़ा गया था. वैनगंगा नदी के पूर्व दिशा में यह मार्ग होने के कारण रेती के यातायात के लिए इसे उपयोग में लाया जाता है.

खुमारी, वडेगांव, मांडवी, कान्हलगांव, मुंढरी क्षेत्र में रेत घाट होने के कारण इस मार्ग पर रेत यातायात होता है. खमारी से भिलेवाडा मार्ग पर डांबर की गिट्टी ही दिखायी देती है. यहां पर साइकिल चलाना भी आसान काम नहीं है.

रोजगार की खोज में मांडवी से मजदूर भंडारा तक साइकिल से ही आते हैं. कुछ मजदूर मोटरसाइकिल से भी आते हैं, लेकिन साइकिल या मोटरसाइकिल सवार दोनों के लिए इस मार्ग पर यातायात करना जान खतरे में डालने जैसा ही है.