School closed

    पालांदूर. सरकार ने बिना कोरोना वाले गांवों में 15 जुलाई से आठवीं से बारहवीं कक्षा शुरू करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं. लेकिन अभी तक  सीनियर कालेज को कोई निर्देश नहीं मिला है. इससे छात्रों और अभिभावकों में भ्रम की स्थिति पैदा हो गई है और चूंकि जिला कोरोनामुक्त हो गया है. छात्र व अभिभावक मांग कर रहे हैं कि स्कूलों के बाद कालेज शुरू किए जाएं.

    सरकार ने उन गांवों में आठवीं से बारहवीं कक्षा शुरू करने के लिए कुछ दिशानिर्देश जारी किए हैं. जहां कोई कोरोना रोगी नहीं है. सरकार इस संबंध में गांवों में सरपंच की अध्यक्षता में प्रमुख व्यक्तियों की समिति बनाकर सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करने पर चर्चा करना चाहती है.

    इन नियमों का पालन कर सीनियर कालेज शुरू किए जा सकते हैं. लेकिन सरकार ने अभी तक इस संबंध में कोई नोटिस जारी नहीं किया है. इसलिए वरिष्ठ कालेजों की पढ़ाई भी फिलहाल आनलाइन शुरू की जा रही है. बारहवीं कक्षा का परिणाम अभी घोषित नहीं किया गया है.

    प्रथम वर्ष की कक्षाएं 12 वीं पास होने के बाद ही प्रवेश प्रक्रिया शुरू होगी. द्वितीय व तृतीय वर्ष के छात्रों की कक्षाएं आनलाइन शुरू हो गई हैं. शासन के नियमों के अनुसार 15 जुलाई से नया शैक्षणिक वर्ष शुरू होगा. आनलाइन शिक्षा शुरू हो गई है. ग्रामीण क्षेत्रों के बड़े गांवों में भी सीनियर कालेज है. सरकार ने आठवीं से बारहवीं तक के स्कूल शुरू करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं.

    इसी तरह सीनियर कालेज शुरू करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं, तो वे भी शुरू कर सकते है. इसलिए सरकार को दिशा-निर्देश देना चाहिए और सीनियर कालेज शुरू करने की अनुमति देनी चाहिए ऐसी मांग नागरिक, छात्र व अभिभावकों द्वारा की जा रही है.