उड़ानपुल का काम शुरू होने से बढ़ रहा यातायात, सर्विस रोड की हालत खराब, हमेशा बनी रहती है दुर्घटनाओं की आशंका

    साकोली . राष्ट्रीय महामार्ग क्रमांक-6 के साकोली एवं लाखनी शहर में हो रही दुर्घटनाओं को देखते हुए पिछले 2 वर्षों से कालम वाले उड़ान पुल का काम शुरू है एवं अभी साकोली लाखनी शहर में यातायात सर्विस रोड से शुरू है. जिसकी वजह से अनेक जगहों से सर्विस रोड की गिट्टी उखड़ गई है.

    गिट्टी सड़क पर फैलने से नागरिक एवं वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. निर्माण यंत्रणा जेएमसी कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा मुख्य मार्ग पर पिलर का काम पूरा होने के बाद अभी उड़ान पुल के ऊपर प्लेट लगाने का काम लगभग होते आ रहा है एवं अभी बारिश के दिन शुरू होने से जब बारिश होती है तब सर्विस रोड पर यातायात करने वाले यात्रियों को प्लेट पर से गिरने वाले पानी के कारण उन्हें उस पानी से बचते हुए निकलना पड़ता है.

    जिससे पहले ही सर्विस रोड पर ट्रैफिक बढ़ जाने के कारण हाइवे पर चलने वाले वाहन एवं सर्विस रोड पर चलने वाले वाहनों के कारण ट्राफिक सर्विस रोड पर बढ़ गया है. ऐसे में यातायात करने में यात्रियों को काफी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है.

    जगह-जगह गड्ढे, डामर भी उखड़ा

    अभी सर्विस रोड पर हाइवे का ट्राफिक भी चलने के कारण दोनों ओर भारी वाहनों की आवाजाही हो गई है. जिससे जगह-जगह पर गड्ढे पड़ गए हैं तथा कई जगह पर डामर भी उखड़ गया है तथा गड्ढों के कारण गिट्टी रोड पर बिखर जाती है. जिससे चाहे  वाहनवाला हो या पैदल चलने वाला सभी को समस्या होती है. वही सर्विस रोड पर से यातायात शुरू होने से पार्किंग की समस्या निर्माण हो गई है.

    सर्विस रोड पर कई बार गड्ढों को बुझाने के लिए निर्माण यंत्रणा द्वारा रोड के ऊपर से फिर रोड बनाया जाता है. जिससे रोड की ऊंचाई बढ़ जाती है. इसी प्रकार जब हाइवे पर यातायात शुरू रहता है तथा वहां पर गड्ढे हो जाते हैं तो उसकी मरम्मत करने के लिए उस पर फिर से रोड बनाए जाने के कारण अभी रोड की ऊंचाई बढ़ गई है. जिससे अनेक व्यापारियों की दूकान रोड के नीचे आ गई है तथा बारिश के दिनों में पानी दूकानों में घुस जाएगा. जिससे अनेक व्यापारियों का नुकसान होगा.

    लेकिन जेएमसी कंपनी का इस ओर ध्यान नहीं है. वही जहां-जहां मोड़ की जगह है. वहां पर सुरक्षा कर्मचारी तैनात करना चाहिए. जिसके चलते दुर्घटनाएं कम हो जाएंगी तथा मोड़ वाले स्थान पर भी स्पीड ब्रेकर लगाए जाने चाहिए जिससे वाहनों की गति कम हो एवं इससे दुर्घटना पर नियंत्रण लगेगा.