प्लास्टिक विक्रेताओं पर कार्रवाई

बुलढाना. प्लास्टिक प्रतिबंधक कानून का कड़ाई से अमल करने के उद्देश्य से शहर में व्यवसायियों पर कार्रवाई की गई. इस कार्रवाई के लिए अकोला का प्रदूषण नियंत्रण मंडल और नगरपालिका की ओर से पहल की गई.

बुलढाना. प्लास्टिक प्रतिबंधक कानून का कड़ाई से अमल करने के उद्देश्य से शहर में व्यवसायियों पर कार्रवाई की गई. इस कार्रवाई के लिए अकोला का प्रदूषण नियंत्रण मंडल और नगरपालिका की ओर से पहल की गई. कार्रवाई के डर से शहर के कई व्यवसायीयों ने अपनी दूकानों को बंद कर चले गए थे. प्रदूषण नियंत्रण मंडल के क्षेत्रीय अधिकारी जितेंद्र पुरते एवं राजेश जाधव बुलढाना पहुंचे. उन्होंने नगरपालिका के मुख्याधिकारी महेश वाघमोडे को कार्रवाई की जानकारी दी.

7 दूकानों पर रु. 5,000 जुर्माना
इसके बाद उपमुख्याधिकारी जगदेव कार्ले, स्वास्थ्य निरीक्षक सुनील बेंडवाल, गजानन चिंचोले, किशोर गायकवाड, संजय अहेर, रवि जाधव, सुनील काले, संजय मुले, नफिसा बानो, शिल्पा बापट, अंकिता टिकार, प्रसेनजीत इंगले, आनंद गायकवाड, संजय देवराव गायकवाड, श्याम श्रीवास, अनीस हाफीज, विकास खरे, शेख अश्फाक शेख गणी, नितिन डोंगरदिवे ने शहर में कार्रवाई शुरू कर दी. इसके तहत शहर के करीब 25 दूकानों की जांच की गई. इनमें से 7 दूकानों में प्लास्टिक कैरीबैग का पता चलने पर इन सभी को 5 हजार रुपयों का जुर्माना ठोंका गया. इसमें मंगलम कपड़ा दूकान, राजस्थान स्वीट मार्ट, न्यू जनता स्टोर्स, खत्री बैग हाउस, अरिहंत सुपर बाजार का समावेश है. इस कार्रवाई में करीब 1 क्विंटल प्लास्टिक बैग जमा किए गए. इस कार्रवाई से पूरे मार्केट लाईन में खलबली मच गयी.