Eastern Express bridges will now be consolidated, MSRDC has decided

    चंद्रपुर. शहर से मोहुर्ली जाते समय बीच रास्ते मे काली माता मंदिर के सामने पड़ने वाले मोटाघाट नाले पर पुल का निर्माण करने के निर्देश जिले के पालकमंत्री विजय वडेटटीवार ने वेकोलि अधिकारियों को दिए. वेकोलि से संबंधित प्रश्नों पर शनिवार को रविभवन, नागपुर में हुई एक बैठक में यह निर्देश दिए गए.

    महानगर से मोहुर्ली गेट से ताडोबा जाने वाले पर्यटकों को उर्जानगर के बाद मोटाघाट नामक नाले पर स्थित जर्जर बने हुए पुल पर से गुजरना पड़ता है. ताडोबा मार्ग का  समूचा रास्ता अच्छे हालत में है लेकिन मोटाघाट नाले पर यह रास्ता बेहद खस्ताहाल है, वेकोलि के भारी भरकम वाहनों की आवाजाही से यह रास्ता दयनीय बना हुआ है.

    नाले पर सदैव कीचड़ बना रहता है, जिससे ताडोबा पहुंचने वाले देश विदेश के पर्यटकों को तथा इस मार्ग से मोहुर्ली तथा आसपास के गांवों में जाने वाले ग्रामीणों को दिक्कतों का तथा मानसिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

    इस मार्ग पर नाले पर सीएसआर फंड से पुल का निर्माण करने के निर्देश वडेटटीवार ने दिए, साथ ही मसारा तुकुम के पुनर्वास, किटाली, भटाली गांव में एम्बुलेंस की सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश भी उन्होंने दिए.

    बैठक में वेकोलि के अध्यक्ष सह प्रबंधक मनोज कुमार, कार्मिक निदेशक संजीव कुमार, चंद्रपुर के जिलाधिकारी अजय गुल्हाने, पुनर्वास अधिकारी जे पी लोंढे, वेकोलि चंद्रपुर क्षेत्र के महाप्रबंधक मोहम्मद साबिर, कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष नंदू नागरकर, कोयला खदान मजदूर संघ के क्षेत्रीय अध्यक्ष शंकर खत्री, पदमापुर के उपसरपंच महेंद्र मेश्राम आदि उपस्थित थे.