मुख्याधिकारी विजय देवलीकर ने संभाला पदभार

  • आखिरकार सभी अटकलो पर लगा विराम
  • पहले ही दिन सभी विभाग प्रमुखों की ली बैठक

वरोरा. वरोरा नगरपालिका के मुख्याधिकारी सुनील बल्लाळ का 4 महिने पहले यवतमाल मे तबादला हुआ. तबसे उनका स्थान रिक्त होने से विविध प्रकार के तर्क वितर्क लगाए जा रहे थे. आखिरकार मुख्याधिकारी पदपर विजय आनंदराव देवलीकर की नियुक्ति की गई. देवलीकर ने मुख्याधिकारी का पदभार संभाला. मुख्याधिकारी का पदभार संभालते ही उन्होने नपा के सभी विभागप्रमुखों की बैठक लेकर कार्य का जायजा लिया. 

भद्रावती के मुख्याधिकारी सुर्यकांत पिदुरकर को वरोरा नपा का अतिरिक्त पदभार सौपा गया था. लम्बी प्रतिक्षा के पश्चात सभी अटकलों को विराम देते हुए विजय देवलीकर ने मुख्याधिकारी का पदभार संभाला. नपा में प्रवेश करते ही उनका नपा पदाधिकारी, अधिकारी व कर्मचारीयों द्वारा उनका पुष्पगुच्छ से स्वागत किया गया. 

प्रलम्बित कार्यो का होगा निपटारा

150 वर्ष से पुराणी वरोरा नगर पालिका में स्थायि रूप से मुख्याधिकारी ना होने से विकास कार्यो ठप्प से हो गए थे. प्रशासकीय तौर पर नगरपालिका के कामकाज में आवश्यक सुसूत्रता नही थी. विजय देवलीकर ने पदभार संभालते ही पदाधिकारी व नपा कर्मीयों में खुशी दिखाई दी. स्थायि मुख्याधिकारी ना होने से महत्व पूर्ण कार्यो के लिए प्रतिक्षा करनी पडती थी. अन्यथा मुख्याधिकारी जहां उपस्थित रहते वहां जाना पडता था. अब नए मुख्याधिकारी नियुक्त होने से प्रलंबित कार्य तथा जनता की समस्याओं का तत्काल निपटारा होने की अपेक्षा व्यक्त की जा रही है. 

विभिन्न जिले व तहसील में दी सेवा 

अपने सेवाकाल में मुख्याधिकारी विजय देवलीकर ने विभिन्न जिला व तहसिल स्थानो पर मुख्याधिकारी पद सफलता पुर्ण संभाला है. वरोरा आने से पूर्व आदिवासी बहुल क्षेत्र कोरची में भी वे मुख्याधिकारी थे. नागपुर आयुक्त कार्यालय, भंडारा ओपीडी, चंद्रपुर महानगरपालिका में भी उन्होने कार्य किया है. 

विभाग प्रमुखों की ली बैठक 

वरोरा मुख्याधिकारी पद का पदभार संभालते ही उन्होने सभी विभाग प्रमुखों की  बैठक लेकर उन्हे आवश्यक सूचनाए दी. 

विकास कार्यो को गति पहली प्राथमिकता – देवलीकर  

शहर की स्वछता तथा संपत्ती कर वसुली को प्राथमिकता देने की बात कही. बकाया वसुली, पुनर्मुल्यांकन, चतुर्थ वार्षिक कर मुल्यांकन के लिए कारवाई पुर्ण कर नोटिस तैयार करके वितरन करना तथा 1 जनवरी से नई कर वसुली करने की आवश्यक सूचनाए विभाग प्रमुखों को दी. तत्पश्चात अन्य विभाग का ब्योरा लेकर शहर के विकास कार्यो को गति देना तथा प्रशासकीय कार्य में सुसूत्रता लाने हेतु आवश्यक कार्य करने की जानकारी मुख्याधिकारी देवलीकर ने दी.