मांगने पर दे खेत तालाब, विधायक की कृषी अधिकारीयों को सुचना

  • किसानों को खेतों को दी भेट, जान ली समस्या

चंद्रपुर. मान्सुन का आगमन होते ही किसान खेती कार्य में जुट गए है. विधायक जोरगेवार ने ग्रामीण क्षेत्र का दौरान कर किसानों की खेती को भेट देकर समस्या को जानने का प्रयास किया. अनियमीत बारीश व कोरोना संकट से किसान त्रस्त है. परंतु जल्द ही उनकी समस्या का समाधान किया जायेगा. साथ ही मांगने पर खेततालाब दिए जाने की सुचना विधायक किशोर जोरगेवार ने कृषी अधिकारीयों को दी. 

विधायक जोरगेवार ने किसानों की समस्या को सरकार समक्ष रखने पर प्रावधान दिया है. अनियमीत बारीश व अब कोरेाना से लागु किए गए लाकडाऊन से किसान वर्ग संकट में फंस गया है. संकटों के बावजुद किसान खेती कार्य में जुट गया है. इस बार अच्छी बारीश की मौसम विभाग की संभावना दर्शाने से किसान वर्ग जोरों शोर से खेती कार्य में जुट गया है. किसानों की समस्या छुडाने के लिए प्रशासन सक्षम होने की जानकारी विधायक किशोर जोरगेवार ने दी. 

इस समय किसानों को भेट देकर उनकी समस्या जानने का प्रयास किया . विधायक जोरगेवार ने साखरवाही व शेनगांव के किसानेां की खेतों पर जाकर खेती कार्य की जानकारी व उनकी समस्या जानने का प्रयास किया. गांव में नियमीत बस सेवा नही होने की शिकायत पर तत्काल गांव में बससेवा शुरू करने की सुचना परिवहन अधिकारी को दी. गांव के निराधार व श्रावणबाल, संजय गांधी योजना के मामलों का निपटारा करने की सुचना तहसीलदार को दी गयी. गांव की पगडंडी तैयार करने तथा किसानेां के खेततालाबों का अस्थयीकरण करने का आश्वासन विधायक जोरगेवार ने गांववासीयों को दिया. वेकोली के सीएसआर निधि ने से साखरवाही के तालाब का गहराईकरण करने का आश्वासन दिया गया. इस समय विधायक ने साखरवाही बालकृष्ण भगत के दालमील को भेट दी. आर्थिक सक्षम होने के लिए किसानेां ने खेत समेत दालमील जैसे उद्योग करने का आवाहन किया. 

इस समय तहसील कृषीअधिकारी वहाते, सहायक कृषीअधिकारी गायकवाड, साखवाही की सरपंच छबु बोंडे, कृषी उपज बाजार समिति के संचालक नागेश बोंडे, ग्राम पंचायत सदस्य माया भगत, उज्वला काकडे, ग्रामसेवक देवगडे, जिला परिषद के पुर्व सदस्य विलास भगत, शेनगांव की सरपंच नर्मिला मिलमीले, कृषि सहायक अधिकारी पंकज ढेंगणे, पटवारी राहुल भोंगले, ग्रामसेवक रवद्रिं चवरे, ग्राम पंचायत सदस्य राजेश कांबले, चंद्रकांत वैद्य, मंगेश चटकी, मनोज धांडे, वठ्ठिल बंडेवार, प्रभाकर धांडे, आदि उपस्थित थे.