विसापुर में जनविकास सेना का टोलमुक्ति आंदोलन

  • आंदोलनकारीयों को पुलिस ने किया डिटेन
  • 14 दिसम्बर को कलेक्ट्रेट समक्ष धरना आंदोलन

चंद्रपुर. दिल्ली में किसान आंदोलन को समर्थन घोषित करते हुए देश के सभी टोल मुक्त करने की मांग को लेकर जनविकास सेना के अध्यक्ष पप्पु देशमुख के नेतृत्व में शनिवार को विसापुर टोल नाके पर टोलमुक्ति आंदोलन किया गया. 

आंदोलन के दौरान सैकडों किसानों ने किसान एकता जिंदाबाद, जय जवान_जय किसान, भारत माता की जय के नारे लगाए. आंदोलकों ने टोल नाके से जानेवाले भारी यातायात के लिए टोलनाका मुक्त किया. इस समय नाका के कर्मचारीयों ने आंदोलकों को रोकने का प्रयास किया. परंतु आंदोलनकारीयों ने उनकी एक ना सुनने तथा भारी वाहनों को छोडने से नाकाकर्मियों ने बल्लारपुर पुलिस से संपर्क कर घटनास्थल बुलाया. घटनास्थल पर पहुची बल्लारपुर पुलिस ने आंदोलनकारीयों को डिटेन किया.  

आंदोलन में चंद्रपुर किसान आंदोलन के चमकोर सिंग बसरा, बलबीर सिंग गुरम, गुरूपाल सिंग, ग्यान सिंग, जितेंद्र सिंग बलोदा, दलजीत सिंग नरेन के नेतृत्व में कई सिख बांधवों ने तथा जन विकास सेना ग्रामीण शाखा के अनिल कोयचाले, धर्मेंद्र शेंडे, चंदु झाडे, प्रवीण मटाले, आकाश लोडे, हरिदास निकुरे, सत्यजित वाघमारे, भैय्याजी मोहुर्ले, जिवन कोटरंगे, संदीप पेंदोर, गोविंदा नगराले आदि सैकडों किसान सहभागी हुए थे. 

आंदोलन के सफलतार्थ जन विकास सेना मनीषा बोबडे, अक्षय येरगुडे, इमदाद शेख, गितेश शेंडे, राहुल दडमल, साईनाथ कोंतमवार, किशोर महाजन, देवराव हटवार, भाग्यश्री मुधोलकर, बबिता लोडेल्लीवार आदि ने प्रयास किए. 

14 को जिलाधीश कार्यालय समक्ष धरना आंदोलन 

किसानों के खिलाफ बनाए गए 3 अध्यादेश को रद्द करने व हमी भाव को कानुनी संरक्षण देने की मांग को लेकर 14 दिसम्बर को जिलाधीश कार्यालय समक्ष चंद्रपुर किसान आंदोलन की ओर से धरना आंदोलन का आयेाजन किया है. आंदोलन में सहभागी होने का आवाहन किसान आंदोलन के आयोजकों ने किया हे.