Two road accidents, 11 killed, many injured in northwest Pakistan

बल्लारपुर. नगर पालिका और बस्ती विभाग के बीच गोल पुलिया पर हुई सडक दुर्घटना में एक युवक की मृत्यु हो गई. यह घटना शनिवार की रात 9.30 बजे घटी. लोगों का आरोप है कि लोकनर्मिाण विभाग की एक गलती से गोल पुलिया के पास हुई सड़क दुर्घटना में युवक को अपनी जान गंवानी पडी.

प्राप्त जानकारी के अनुसार शिवाजी वार्ड निवासी सातखोली निवासी राकेश देवा उमरे, बामनी निवासी मत्रि धीरज बंडू कुडकेलवार को लेकर बस्ती विभाग गांधी पुतले के पास किसी कार्यवश आया था. वापसी में रात्री लगभग 9.30 बजे गोल पुलिया के पास गड्डे में उसकी मोटर साइकिल क्रं. एमएच 34 एएफ 1635 उछल गई और उसका संतुलन बिगडने से राकेश उमरे सामने लगे रेलवे के बैरिकेटस पोल से सीध टकरा गया. गंभीर घायल राकेश को स्थानीय ग्रामीण अस्पताल पहुंचाया गया. जहां प्रथमोपचार के पश्चात उसे जिला सरकारी अस्पताल चंद्रपुर भेज दिया गया. किंतु उसके सिर और जबडे पर जोरदार चोट लगने से उसकी मृत्यु हो गई. मृतक का दोस्त धीरज भी घटना के बाद  फरार हो गया.

विदित हो कि नप चौक से कालरी कांटा गेट तक लोकनर्मिाण विभाग द्वारा पिछले वर्ष लगभग 11 करोड की लागत से 1.5 किमी कांक्रीट रोड बनाया गया. जिसमें कई खामिया रह गई है. कितु लोकनर्मिाण विभाग के इंजीनियर इस ओर आंखे मूंदे बैठे है. बस्ती से नप की ओर जाते समय मार्ग डिवाईडर गोल पुलिया के मुहाने तक बना दिया गया. चूंकि गोल पुलिया में एकल रास्ता तथा मोड होने से बस्ती विभाग से नप की ओर जाते समय वाहनों को सावधानीपूर्वक धीमी गति से चलाना पडता है. वाहन की गति थोडी भी अधिक हो तो दुर्घटना की संभ्ज्ञावना बनी रहती है. इसके पूर्व भी इस जगह पर कई दुर्घटनाएं हो चुकी है. अब एक युवक की जान जाने पर पीडब्ल्यूडी विभाग की नींद खुलती है या नहीं यह देखना होगा.