Criminal cases started increasing after unlock

    चंद्रपुर. शहर को औद्योगिक पहचान होने के बावजुद कोरोना व लाकडाऊन के चलते रोजगार छुट जाने से कई युवकों को बेरोजगारी का सामना करना पड रहा है. हाथ को काम नही होने से कई युवक अपराधिक दूनिया में प्रवेश कर रहे है. जिससे चोरी, लुटपाट, हत्या आदि मामलों में वृध्दी हो रही है. 

    पिछले वर्ष मार्च महिने से कोरोना संक्रमण के चलते संपूर्ण देश में लाकडाऊन लगाया गया. जिसके चलते कई युवक अपने_अपने गांव लौट गए. तो कई कंपनीयेां में आर्थिक संकट के चलते युवकों को निकाला गया. युवकों के हाथ को काम नही होने के कारण कई युवक छोटे_बडे व्यवसाय में जुट गए परंतु जो युवक ठिक तरह से काम भी नही कर पा रहे थे वह अपराध के मार्ग पर कब बढे उन्हे पता नही चला.

    आए दिन शहर तथा जिले में हो रही शराब तस्करी, रेत तस्करी, चोरी, लुटपाट, हत्या आदि मामलों की संख्या अधिक बढ गयी है. इनमें अधिक्तर 18 से 40 की आयु तक के युवक अधिक सक्रिय दिखाई देते है. युवकों को अपराधीक दूनिया की ओर भटके कदम को वापस सही राह दिखाने के उद्देश से बेरोजगार युवकों का पंजीयन उन्हे रोजगार दिलाने तथा रोजगार के लिए सहयोग करने की मांग कई पालक वर्ग तथा युवकों द्वारा की जा रही है.