Tata Motors ties up with HDFC Bank for loan of passenger vehicles

नई दिल्ली. टाटा मोटर्स (Tata Motors) ने शनिवार को कहा कि उसने अपने यात्री वाहनों के वित्तपोषण के लिये एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) के साथ गठजोड़ किया है। कंपनी ने इस गठजोड़ के तहत वाहनों के वित्तपोषण के लिये दो योजनाएं पेश की हैं। टाटा मोटर्स (Tata Motors) ने एक बयान में कहा कि त्योहारी सत्र में बिक्री को बढ़ाने तथा उत्पादों की पहुंच आसान बनाने के लिये एचडीएफसी बैंक के साथ मिलकर दो नयी योजनाएं ‘ग्रैजुएल स्टेप अप स्कीम’ (Grazuel Step Up Scheme) और ‘टीएमएल फ्लेक्सी ड्राइव स्कीम’ (TML Flexi Drive Scheme) पेश की गयी हैं।

कंपनी ने कहा कि ये दोनों योजनाएं नवंबर 2020 के अंत तक उपलब्ध होंगी। इनका लाभ भारत स्टेज-6 के अनुकूल सभी कारों, स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल (sports utility vehicles) और इलेक्ट्रिकल वाहनों पर लिया जा सकेगा। कंपनी ने बताया कि ‘ग्रैजुएल स्टेप अप स्कीम’ के तहत उपभोक्ता प्रति लाख पर मासिक 799 रुपये की न्यूनतम किस्त का लाभ ले सकते हैं। मासिक किस्त वाहन के मॉडल व संस्करण पर निर्भर होगी। मासिक किस्तें खरीदार की सहुलियत के हिसाब से दो साल तक धीरे-धीरे बढ़ती जायेंगी।

‘टीएमएल फ्लेक्सी ड्राइव स्कीम’ (Graduate Step Up Scheme) के तहत उपभोक्ता प्रत्येक साल किन्हीं तीन ऐसे महीनों का चयन कर सकते हैं, जिन महीनों में वह न्यूनतम किस्त का भुगतान करना चाहते हों। कंपनी ने कहा कि ये योजनाएं उपभोक्ताओं को वाहन की किस्तें भरने में आसानी प्रदान करने के लिये पेश की गयी हैं। टाटा मोटर्स (Tata Motors) के विपणन प्रमुख (यात्री वाहन व्यवसाय) विवेक श्रीवत्स ने कहा, ‘‘यह व्यक्तिगत वाहनों को लोगों के लिये आसानी से उपलब्ध बनाने की हमारी मुहिम का हिस्सा है, ताकि उपभोक्ता इस साल त्योहारी सत्र में अपने वाहन का लाभ ले सकें।” टाटा मोटर्स (Tata Motors) ने बयान में यह भी कहा कि वह इन दोनों योजनाओं के तहत अपने सभी यात्री वाहनों पर एक्स-शोरूम कीमत के 100 प्रतिशत का ऋण उपलब्ध कराने की सुविधा दे रही है।(एजेंसी)