orange-cap

    इंडियन प्रीमियर लीग (IPL T20 Tournament) में जो बल्लेबाज सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाता है, उसे’ऑरेंज कैप’ से सम्मानित किया जाता है। आइए जानें उन 4 भारतीय धुरंधर खिलाड़ियों के बारे जिन्होंने  ‘ऑरेंज कैप’ जीते हैं। 

    सबसे पहले मार्श के नाम हुआ ‘कैप’:

    IPL T20 के डेब्यू ईयर यानी 2008 में ऑस्ट्रेलिया के शॉन मार्श (Shaun Marsh) ने सबसे ज्यादा रन बनाया था और इस लीग टूर्नामेंट के इतिहास में ‘ऑरेंज कैप’ जीतने वाले पहले खिलाड़ी बने। उन्होंने ‘किंग्स इलेवन पंजाब’ के लिए खेलते हुए 11 पारियों में 616 रन बनाए थे और उनके विस्फोटक बल्ले से 68.44 से रन निकला था। उस सीज़न में उनका सर्वाधिक स्कोर 115 रन था। 2008 में उनके बल्ले से 1 शतक और 5 अर्धशतक लगाए थे। उसके अगले सीज़न में (IPL T20 2009) में CSK की तरफ से खेलते हुए ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज मैथ्यू हेडन (Mathew Hayden) ने ऑरेंज कैप जीता,  जिन्होंने 52 के औसत से 572 रन बनाए थे। उस मैच में उनकी स्ट्राइक रेट 144.81 की थी।

    2010 में सचिन तेंडुलकर के सिर सजा ‘कैप’:

    IPL 2010 पहला सीजन था जब किसी भारतीय बल्लेबाज के नाम हुआ ‘ऑरेंज कैप’। उस सीज़न में सचिन तेंडुलकर (Sachin Tendulkar) ने 47.53 की औसत से 618 रन बनाए थे। जिसमें 5 अर्धशतक शामिल थे। उसके अगले सीजन IPL 2011 में ‘यूनिवर्स बॉस’ क्रिस गेल (Chris Gayle) ने 183.13 की हैरान कर देने वाली स्ट्राइक रेट से 12 पारियों में 608 रन ठोके थे। गेल ने उस सीजन (IPL T20 2011) में RCB के लिए खेलते हुए 2 शानदार शतक और 3 जानदार अर्द्धशतक लगाए थे। क्रिस गेल ने उसके अगले साल की आईपीएल IPL T20 2012 में भी अपना जलवा दिखाया और एक बार फिर ‘ऑरेंज कैप’ पर कब्ज़ा किया। IPL 2012 में उन्होंने 733 रन बनाए थे। 

    IPL 2013 में ‘चेन्नई सुपर किंग्स’ (CSK) के लिए खेलते हुए धाकड़ बल्लेबाज़ माइक हसी (Mike Hussey) ने 17 पारियों में 95 के सर्वाधिक स्कोर के साथ 6 अर्द्धशतक भी ठोके थे। उनकी शानदार खेल की बदौलत उनकी टीम फाइनल तक जाने में कामयाब रही थी।

    हसी के बाद IPL T20 2014 में रॉबिन उथप्पा (Robin Uthappa) ने 2014 बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए सीज़न में 660 रन बनाए थे। ये स्कोर उस सीज़न में किसी एक खिलाड़ी का सबसे ज्यादा था। यही नहीं एक आईपीएल सीजन में एक भारतीय खिलाड़ी द्वारा सबसे ज्यादा रन आईपीएल में बने थे। उस सीज़न में रॉबिन उथप्पा के बेहतरीन प्रदर्शन के कारण ‘कोलकाता नाइट राइडर्स’ (KKR) सीजन की ट्रॉफी जीती थी। और रॉबिन उथप्पा के सिर ‘ऑरेंज कैप’ सजा था।

    डेविड वार्नर का 3 बार कब्जा:

    ‘सनराइजर्स हैदराबाद’ (SRH) के कप्तान डेविड वार्नर (David Warner) ने आईपीएल के इतिहास में सबसे ज्यादा बार ‘ऑरेंज कैप’ (Orange Cap) जीतने का रिकॉर्ड है। उन्होंने  3 बार ‘ऑरेंज कैप’ हासिल किया है। डेविड वॉर्नर आईपीएल के सीज़न 2015, 2017 और 2019 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे।

    2015 में डेविड वार्नर ने 14 मैचों में 156.54 की स्ट्राइक रेट से 562 रन बनाए थे। 2017 में उन्होंने 14 मैचों में 141.81 की स्ट्राइक रेट से 641 रन बनाकर दूसरी बार ‘ऑरेंज कैप’ (Orange Cap) जीती थी। और,  IPL 2019 में 12 मैचों में 143.85 की स्ट्राइक रेट से 692 रन बनाकर डेविड वॉर्नर (David Warner) ने  तीसरी बार ‘ऑरेंज कैप’ जीती थी। 

    गौरतलब है कि, डेविड वार्नर ने 2016 में भी 17 मैचों में 848 रन बनाए थे। वह तब दूसरे स्थान थे। उस सीज़न में ‘सनराइजर्स हैदराबाद’ (SRH) पहली बार खिताब जीता था। 

    कोहली हैं अब तक के टॉप स्कोरर:

    एक ही सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने का कीर्तिमान ‘रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू’ (RCB) के कप्तान एंग्री यंग मैन विराट कोहली (Virat Kohli Captain RCB) का है। विराट कोहली ने 2016 में ‘ऑरेंज कैप’ जीती थी। उन्होंने IPL T20 2016 में 16 पारियों में 81.08 की औसत से 973 रन बनाए थे। उन्होंने उस सीजन में 4 शानदार शतक और 7 बेजोड़ अर्धशतक ठोके थे और अपनी टीम को फाइनल तक पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभाई थी।

    2018 सीजन धाकड़ बल्लेबाज़ केन विलियमसन (Ken Williamson) ने सबसे ज्यादा रन बनाए थे। उस सीज़न में उन्होंने 735 रन बनाए थे। इस स्कोर में 8 अर्द्धशतक शामिल थे। सीज़न 2018 में केन विलियमसन SRH के कप्तान थे। उन्होंने 52.50 की औसत और 142.44 की स्ट्राइक रेट से 735 रन बनाए थे और ‘ऑरेंज कैप’ हासिल किया था। 

    और IPL T20 2020 यानी पिछले सीजन में ‘किंग्स इलेवन पंजाब’ (अब ‘पंजाब किंग्स’) के कप्तान केएल राहुल (KL Rahul) ने 55.83 की औसत से 14 पारियों में 670 रन बनाए थे और ‘ऑरेंज कैप’ जीता था। उन्होंने IPL 2020 में RCB के खिलाफ विस्फोटक नाबाद 132 रन ठोके थे। इस सीजन में उनके नाम 1 शतक और 5 अर्द्धशतक रहे।

    विनय कुमार