ipl-2021-delhi-capitals-captain-rishabh-pant-smashes-bowlers-in-practice-session

    नयी दिल्ली: इंग्लैंड के खिलाफ अगले महीने होने वाली टेस्ट श्रृंखला से पहले भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत और थ्रोडाउन विशेषज्ञ दयानंद जारानी कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं जबकि तीन अन्य को पृथकवास में रखा गया है । गेंदबाजी कोच भरत अरूण, रिजर्व विकेटकीपर रिधिमान साहा और स्टैंडबाय सलामी बल्लेबाज अभिमन्यु ईश्वरन को पृथकवास में रखा गया है जो दयानंद के संपर्क में आये थे । दयानंद की रिपोर्ट सुबह आई।  अब टीम की कोरोना जांच रोज होगी । 

    बीसीसीआई सचिव जय शाह ने एक आधिकारिक बयान में कहा ,‘‘पंत ब्रेक के दौरान टीम होटल में नहीं थे । वह आठ जुलाई को कोरोना पॉजिटिव पाये गए । उनमें कोई लक्षण नहीं है और वह उसी स्थान पर पृथकवास में हैं , जहां वह पॉजिटव पाये गए थे।” उन्होंने कहा ,‘‘ बीसीसीआई की मेडिकल टीम उनकी निगरानी कर रही है और अब वह रिकवरी की राह पर है । वह दो नेगेटिव आरटी पीसीआर टेस्ट आने के बाद डरहम में टीम से जुड़ेंगे ।”  

    समझा जाता है कि अरूण, ईश्वरन और साहा की रिपोर्ट नेगेटिव आई है लेकिन उन्हें ब्रिटिश सरकार के स्वास्थ्य सुरक्षा प्रोटोकॉल मानने होंगे ।  ये पांचों लंदन में हैं जबकि बाकी टीम 20 दिन के ब्रेक के बाद शाम को डरहम में एकत्र होगी । लंदन से डरहम बस से जाने में पांच घंटे लगते हैं ।

    बीसीसीआईने कहा ,‘‘चारों को दस दिन पृथकवास में रहना होगा । वे लंदन में अपने टीम होटल के कमरों में ही रहेंगे ।” बोर्ड ने बताया कि क्रिकेटरों के साथ यात्रा कर रहे उनके सभी परिजनों और स्टाफ को लंदन में इस महीने की शुरूआत में कोरोना का दूसरा टीका लग चुका है ।

    शाह ने मीडिया को जारी बयान में कहा,‘‘आगे किसी जोखिम से बचने के लिये भारतीय दल का प्रतिदिन ‘ लेटरल फ्लो टेस्ट’ होगा।” पंत और साहा 20 जुलाई से एक संयुक्त काउंटी टीम के खिलाफ होने वाला अभ्यास मैच नहीं खेल सकेंगे । ऐसे में केएल राहुल विकेटकीपिंग करेंगे । 

    समझा जाता है कि पंत को सात जुलाई को कोरोना का दूसरा टीका लगा था और उससे पहले ही वह डेल्टा 3 वैरिएंट से संक्रमित हो गए थे । रिधिमान को आईपीएल के दौरान ही कोरोना संक्रमण हुआ था ।  पंत और चोटिल शुभमन गिल के अलावा बाकी पूरी भारतीय टीम गुरुवार को लंदन से डरहम रवाना हो गई। गिल को इस महीने की शुरुआत में पैर में चोट लगी थी और यह युवा बल्लेबाज टीम के जैविक रूप से सुरक्षित माहौल से बाहर आ चुका है।

    इससे पहले बीसीसीआई सचिव जय शाह ने इससे पहले ब्रिटेन में मौजूद भारतीय दल को हाल में ई-मेल भेजकर वहां कोविड-19 के बढ़ते मामलों के प्रति चेताया था। न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछले महीने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के बाद खिलाड़ियों को ब्रेक दिया गया था। भारत ने यह मुकाबला गंवा दिया था।

    पंत को पिछले महीने यूरो फुटबॉल चैंपियनशिप के मुकाबले के दौरान स्टेडियम में देखा गया था और उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी तस्वीर भी पोस्ट की थी। हल्के बुखार के बाद पंत ने परीक्षण कराया था। शाह ने अपने पत्र में खिलाड़ियों को भीड़-भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचने को कहा था क्योंकि टीम के खिलाड़ियों को लगाए गए कोविशील्ड टीके से सिर्फ संक्रमण से बचाव हो सकता है, यह वायरस के खिलाफ पूर्ण प्रतिरोधक शक्ति नहीं देता।

    शाह ने अपने पत्र में विशेष तौर पर लिखा था कि खिलाड़ी हाल में यहां संपन्न हुई विंबलडन टेनिस चैंपियनशिप और यूरो चैंपियनशिप में जाने से बचें। भारतीय टीम को इंग्लैंड के खिलाफ चार अगस्त से पांच टेस्ट की श्रृंखला खेलनी है। टीम इससे पहले 20 जुलाई से अभ्यास मैच भी खेलेगी। भारत और इंग्लैंड के बीच इस मुकाबले के साथ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे चक्र की शुरुआत होगी। 

    हाल में इंग्लैंड की टीम को भी कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों का सामना करना पड़ा था जिसके कारण उसकी मुख्य टीम पृथकवास पर चली गई और उसे पाकिस्तान के खिलाफ सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिए नई टीम चुननी पड़ी।