उपविभागीय कार्यालय पर दस्तक देते सुरेंद्रसिंह चंदेल समेत अन्य
उपविभागीय कार्यालय पर दस्तक देते सुरेंद्रसिंह चंदेल समेत अन्य

  • इटियाडोह पाटबंधारे उपविभाग वडसा का मामला
  • सुरेंद्रसिंह चंदेल ने दी एसडीओ कार्यालय पर दस्तक

गडचिरोली. इटियाडोह पाटबंधारे उपविभाग वडसा अंतर्गत कुरुड में शुरू होनेवाले वितरिका नहर के महला उपसा करने के कार्य पर फर्जी मजदूर दिखाकर लाखों रूपयों की हेराफेरी करने का मामला सामने आया है. जिससे इस मामले में दोषी होनेवाले पर पुलिस कार्रवाई करने की मांग करते हुए पूर्व जिप सदस्य सुरेंद्रसिंह चंदेल ने कार्यकर्ताओं के साथ उपविभागीय अधिकारी कार्यालय पर दस्तक दी. इस समय मांग का ज्ञापन उपविभागीय अधिकारी को पेश किया गया. 

देसाईगंज तहसील के कुरुड में इटियाहोड पाटबंधारे उपविभाग अंतर्गत मनरेगा के माध्यम से वितरिका नहर के मलबा उपसा का कार्य विगत एक वर्ष से शुरू है. सरकार के निति के अनुसार 100 दिन काम मिलना चाहिए इसलिए कुरूड गांव के सैंकडो मजूदर काम पर कार्यरत है. मजदूरों की मजदूरी उनके बैंक खाते पर जमा की जाती है. मात्र कुछ दिन पूर्व मजदूरों ने शिवसेना के पूर्व उपजिलाप्रमुख अविनाश गेडाम व रायुकां के तहसील अध्यक्ष क्षितीज उके इनकी ओर शिकायत करते हुए फर्जी मजदूरों के बैंक खाते पर मजदूरी जमा होने की बात कहीं. उन्होने अधिक की जांच करने पर कार्य पर न आनेवाले मजदूरों के फर्जी नाम डालकर उनके खाते पर हजारों रूपये जमा होने की बात उजागर हुई. उन खाताधारकों से पुछताच करने पर उन्होने कभी उक्त कार्य पर न जाने की जानकारी दी. इतना ही नहीं तो सरकारी नियमों के अनुसार 50 से 60 वर्ष से अधिक मजदूरों को उम्र के हिसाब से कार्य पर नहीं लिया जा सकता है. ऐसे लोगों के नाम भी मजदूर के रूप में दिखाकर पैसे उनके खाते में जमा किए जाने की बात उजागर हुई है. 

मलबा उपसा करने के नाम पर फर्जी मजदूर दिखाकर करीब 50 लाख रूपयों की हेराफेरी करने का आरोप हो रहा है. इसमें रोजगार सेवक, अभियंता व कुछ संबंधित अधिकारी इनकी मिलीभगत होने की संभावना व्यक्त की जा रही है. जिससे उक्त मामले की वस्तिृत जांच कर दोषीयों पर मामला दर्ज करने की मांग करते हुए पूर्व जिप सदस्य सुरेंद्रसिंह चंदेल, शिवसेना के पूर्व उपजिला प्रमुख अविनाश गेडाम, रायुकां के तहसील अध्यक्ष क्षितीज उके के नेतृत्व में वडसा उपविभागीय कार्यालय तथा तहसिल कार्यालय पर दस्तक दी गई थी. इस समय मांग का ज्ञापन उपविभागीय अधिकारी तथा तहसिलदार की ओर पेश किया गया. इस समय चंदू चावला, विकास प्रधान, भुषण लल्हिारे, मनोज ढोरे, आशीफ कोहचाडे, बाबल हाशमी, कपीलदेव मेश्राम आदी उपस्थित थे.