Rice Mill Gondia

  • ग्रामीणों ने की हटाने की मांग

गोरेगांव. ग्राम सोनी में गांव के पास स्थित श्रीकृष्ण राइस मिल है. २० वर्षों पूर्व चालू की गई थी, किंतु अब आबादी बढ़ने के कारण मिल तक मकान बन गए और मिल से निकलने वाले धुए व भुसे के कारण नागरिकों के स्वास्थ्य का असर हो रहा है. इन्हीं कारणों से इस राइस मिल को हटाने की मांग ग्रामीणों ने जिलाधीश सहित सोनी ग्राम पंचायत, प्रदूषण विभाग भंडारा, एस. डी. ओ., तहसीलदार व खंड विकास अधिकारी को ज्ञापन प्रेषित कर की है.

इसमें पुरानी राइस मिल दूर हटाने व नए कारखाने को अनुमति नहीं देने की मांग भी की गई है. मिल को नहीं हटाने पर जल्द ही कड़ा रूख अपनाने की चेतावनी सोनी ग्राम के नरहरी मेश्राम, श्रावण घारपिंडे, दिगंबर कुरंजेकर, अशोक गजभिये, प्रकाश बघेले, योगराज बावनकर, महेंद्र हरिणखेडे, दिनेश खरोले, बिसराम बावणकर, तेजराम घारपिंडे, ताराचंद विंचूरकर, सागर खोब्रागडे, प्रतीक शेंडे ने दी है.

ग्रामीणों के स्वास्थ्य को खतरा

सोनी से ठाना मार्ग पर मिल स्थित है. घनी आबादी बढ़ गई है व स्वास्थ्य केंद्र इसी परिसर में स्थित है. राइस मिल के धुए व भुसे से अनेक बीमारी का फैलाव हो सकता है. इसलिए इस मिल का यहां से हटाना जरूरी हो गया है. ग्रापं के प्रशासकीय अधिकारी एम. बी. नंदागवली ने बताया की गत २२ वर्षों से यह राइस मिल चल रही है, इसे अभी नहीं हटाया जा सकता, इस कार्रवाई को समय लगेगा लेकिन ग्रामीणों की मांग के अनुसार नए कारखाने को अनुमति नही दी गई है.