Bank Strike : आज से दो दिन की हड़ताल पर 10 लाख  बैंक कर्मचारी, ये होंगे प्रभावित

    नई दिल्ली. देश भर के सरकारी बैंकों (Government Bank) के प्राइवेटाइजेशन (Privatization) के सरकार के फैसले के खिलाफ़ बैंक यूनियनों ने हड़ताल का ऐलान किया है। जिससे आज और कल  सरकारी बैंकों में कोई काम नहीं होगा। बता दें कि, पिछले एक महीने से करीब 10 लाख बैंक कर्मचारी देशभर में विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं।

    अब आज और कल बैंकों की दो दिन की हड़ताल है। यूनियन फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के मुताबिक, आज और कल सरकारी बैंकों में बैकिंग सेवाएं प्रभावित हो सकती हैं, जिस वजह से लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।

    आज यूपीआई पेमेंट में अड़चन

    यह हड़ताल सरकारी बैंकों के निजीकरण (Privatization of public sector banks) के विरोध में की जा रही है। इसलिए 15 और 16 मार्च को बैंक कर्मचारी विरोध स्वरूप हड़ताल पर रहेंगे। हालांकि इस बाबत कुछ बैंकों ने पहले ही जानकारी साझा कर दी है कि हड़ताल की वजह से कामकाज नहीं होंगे। उधर, बैंक यूनियनों (Bank Unions) का कहना है कि इस हड़ताल में देशभर के 10 लाख से अधिक कर्मचारी (Employees) शामिल होंगे।

    इस हड़ताल में सार्वजनिक क्षेत्र के साथ-साथ ग्रामीण बैंक भी शामिल होंगे। यही नहीं, बैंक (Bank) ने बताया है कि SBI के ग्राहकों को 14 मार्च रविवार को UPI पेमेंट करने में अड़चन आ सकती है। 14 मार्च को बैंक (Bank) अपने UPI प्लेटफॉर्म को अपग्रेड करेगा ताकि कस्टमर एक्सपीरिएंस को बेहतर किया जा सके। हालं बैंक ने कहा है कि यूजर्स योनो, योनो लाइट, नेट बैंकिंग या ATM का इस्तेमाल कर सकते हैं।

    कहां प्रभावित होंगी  सेवाएं ? 

    • बैंकों की ब्रांच में पैसा जमा करने, पैसे निकाले, चेक क्लियरेंस और लोन अप्रूवल जैसी सेवाएं प्रभावित  होंगी।
    • एटीएम सेवाओं पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।
    • SBI सहित पब्लिक सेक्टर बैंकों में से कईयों ने अपने ग्राहकों को सूचित किया है कि उनके बैंक की ब्रांच में सेवाएं प्रभावित हो सकती हैं।
    • HDFC बैंक, ICICI बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, Axis बैंक और IndusInd बैंक जैसे प्राइवेट बैंकों में सेवाएं सामान्य रूप से चलेंगी।