ED raids TRS MP Nageswara Rao's offices, leader under investigation in this matter

    हैदराबाद: प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) (ईडी) (ED) के अधिकारियों ने तेलंगाना (Telangana) राष्ट्र समिति (टीआरएस) सासंद एन नागेश्वर राव (Nageshwar Rao) से जुड़े मधुकोन ग्रुप के कुछ कार्यालयों पर शुक्रवार को छापे मारे (Raid)। सूत्रों ने बताया कि, ये छापेमारी मधुकोन ग्रुप की कंपनी रांची एक्सप्रेस वे लिमिटेड की निधि को कथित तौर पर दूसरे कार्यों में इस्तेमाल करने से संबंधित है। सूत्रों ने बताया कि ये छापे जुबिली हिल्स में मधुकोन के कार्यालयों और कुछ निदेशकों के घरों पर मारे गए।

    केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) (CBI) ने मार्च 2020 में रांची एक्सप्रेस वे लिमिटेड के सीएमडी के श्रीनिवास राव समेत इसके प्रवर्तकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। इन पर कैनरा बैंक नीत कई बैंकों के संघ को करीब 1,000 करोड़ रुपये का कथित तौर पर नुकसान पहुंचाने का आरोप है। रांची एक्सप्रेसवे लिमिटेड को 2011 में मधुकोन इंफ्रा लिमिटेड और मधुकोन प्रोजेक्ट्स लिमिटेड द्वारा प्रवर्तित विशेष प्रयोजन वाहन के तौर पर शामिल किया गया था।

    सीबीआई ने कहा कि निदेशकों ने बैंकों के संघ द्वारा जारी 1,029.39 करोड़ रुपये की ऋण राशि को प्राप्त करने के लिए फर्जी काम किए लेकिन परियोजना पर कोई प्रगति नहीं हुई तथा ऋण 2018 में गैर निष्पादित आस्ति (एनपीए) घोषित कर दिया गया। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने 31 जनवरी, 2019 को कंपनी के साथ अपना करार समाप्त कर दिया और कैनरा बैंक के साथ परफॉर्मेंस बैंक गारंटी के नकदीकरण के माध्यम से 73.95 करोड़ रुपये जब्त कर लिए।

    क्या आपको लगता है कि आने वाले वर्षों में भारत के स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में सुधार होगा?

    View Results

    Loading ... Loading ...