jaishankar

नयी दिल्ली. विदेश मंत्री एस जयशंकर (S. Jaishankar) ने शुक्रवार को कहा कि भारत (India) सोमालिया (Somalia) में फंसे 33 भारतीयों को राहत प्रदान करने और उनकी वापसी के लिए काम कर रहा है और नैरोबी स्थित उच्चायोग ने इस सिलसिले में सोमालियाई अधिकारियों के साथ बातचीत की है।

उत्तर प्रदेश के 25 श्रमिकों सहित 33 भारतीय मजदूरों को सोमालिया में एक कंपनी ने कथित तौर पर पिछले आठ महीनों से बंधक बना रखा है। वे 10 महीने पहले कंपनी में शामिल हुए थे। पहले दो महीनों में, कंपनी ने उनके साथ अच्छा व्यवहार किया, लेकिन पिछले आठ महीनों से श्रमिकों को कथित तौर पर उनका वेतन नहीं दिया गया। जयशंकर ने एक ट्वीट में कहा कि सरकार भारत में सोमाली दूतावास के भी संपर्क में है। विदेश मंत्री ने कहा, ‘‘विदेश मंत्रालय और नैरोबी में हमारे उच्चायोग सोमालिया के मोगादिशु में फंसे 33 भारतीयों की राहत और वापसी पर काम कर रहे हैं। उच्चायुक्त ने सोमालियाई अधिकारियों के साथ अपनी चिंताओं को रखा है। हम भारत में सोमाली दूतावास के भी संपर्क में हैं। शीघ्र समाधान की उम्मीद है।”