केंद्र सरकार से आरपार के मूड में ममता बनर्जी, अलापन बन्धोपाध्या को बनाया मुख्य सलाहकार

    नई दिल्ली: मुख्या सचिव अलापन बन्धोपाध्या (Allpan Bandopadhya) के तबादले को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने केंद्र सरकार से आरपार के मूड में आ गई है। ममता ने सोमवार को बड़ा दांव चलते हुए बन्धोपाध्या को मुख्यसचिव से हटाकर अपना मुख्या सलाहकार (Principal Adviser) बना लिया है। वहीं, मुख्य सचिव पद की जिम्मेदारी हरिकृष्ण द्विवेदी (Harikrishna Dwivedi) को सौंपी गई है। इस बात की जानकारी उन्होंने खुद दी। 

    ममता बनर्जी ने कहा, “चूंकि अलपन बनर्जी आज 31 मई को अपनी सेवा से सेवानिवृत्त हुए हैं, इसलिए वह दिल्ली जा रहे हैं। मैं उन्हें नबन्ना छोड़ने नहीं दूंगा। वह अब मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार हैं। मंगलवार को वह अपना कार्यभार संभालेंगे।”

    गृह मंत्रालय ने जारी किया कारण बताओं नोटिस 

    ममता द्वारा अलापन को मुख्य सलाहकार बनाए जाने के ऐलान ऐलान के बाद, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है। मंत्रालय ने उनसेबिना इस्तीफा दिए कैसे मुख्य सलाहकार का पद स्वीकारने पर स्पस्टीकरण मांगा है।

    ज्ञात हो कि, चक्रवात यास के दौरान हुए नुकसान को लेकर बुलाई बैठक में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नहीं पहुंची थी। उनके साथ मुख्या सचिव अलापन भी मौजूद नहीं थे। इसके बाद गृह मंत्रालय ने बंगाल सरकार को पत्र लिख कर उन्हें तुरंत रिलीज करने को कहा था। इसी के साथ बन्धोपाध्या को 31 मई को सुबह 10 बजे तक दिल्ली रिपोर्ट करने को आदेश दिया था।