वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Photo Credits-ANI Twitter)
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की अगुवाई में आज केंद्रीय कैबिनेट (Modi Cabinet) की बैठक हुई है. जिसमें कई बड़े फैसले लिए गए हैं। बताना चाहते हैं कि केंद्र ने बड़े प्रोजेक्ट की फंडिंग के लिए एक नेशनल बैंक बनाने को लेकर हरी झंडी दी है। देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने बताया कि इस बैंक को ‘विकास वित्त संस्थान’ का नाम दिया गया है। 

    निर्मला सीतारमण ने बताया कि वित्तीय विकास संस्थान देश में जो बड़े प्रोजेक्ट चलेंगे उन्हें फंड देगा। इसे जीरो से शुरू किया जाएगा। केंद्र की तरफ से एक बोर्ड का भी गठन होगा जो इसे लेकर निर्णय लेगा। अच्छी बात यह है कि शुरुआत में मोदी सरकार की तरफ से 20 हजार करोड़ का फंड मुहैया कराया जाएगा। वित्त मंत्री ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने डेवलपमेंट फाइनेंस इंस्टीट्यूशन (डीएफआई) की स्थापना को मंजूरी दे दी है, ये एहसास होने पर कि डीएफआई की स्थापना के लिए विकास और फाइनेंशियल उद्देश्य दोनों मायने रखेंगे। 

    ANI का ट्वीट-

    वित्त मंत्री ने कहा कि कैबिनेट ने अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम में ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन को मजबूत करने के लिए 9129.32 करोड़ रुपये संशोधित लागत अनुमान को मंजूरी दी। साथ ही जिन बैंकों का निजीकरण होने की संभावना है उनके निजीकरण होने के बाद भी कार्य जारी रहेगा और कर्मचारियों की इंटरेस्ट की भी रक्षा होगी।