PTI Photo
PTI Photo

    कोलकाता. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) (BJP) के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा (JP Nadda) ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि राज्य में कोविड-19 का टीकाकरण (COVID-19 Vaccination) प्रतिशत सबसे कम है और फर्जी टीकाकरण शिविर भी लगाए जा रहे हैं। तृणमूल ने इस पर पलटवार करते हुए दावा किया कि केंद्र राज्य को पर्याप्त टीका उपलब्ध कराने में नाकाम रहा है।

    नड्डा ने यह भी दावा किया कि राज्य में ‘‘चुनाव बाद संगठित हिंसा” हो रही है और यहां महिला मुख्यमंत्री होने के बावजूद महिलाओं को उत्पीड़न का शिकार होना पड़ रहा है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘अगर आप आंकड़े देखें तो देश के बाकी राज्यों की तुलना में पश्चिम बंगाल में टीकाकरण कम हुआ है।”

    केंद्र सरकार की एक वेबसाइट के अनुसार, राज्य में मंगलवार सुबह नौ बजे तक टीके की कुल 2.14 करोड़ खुराक दी गई, जिसमें 48.64 लाख दूसरी खुराक शामिल है। राज्य सरकार के पोर्टल के अनुसार पश्चिम बंगाल की आबादी लगभग 9.13 करोड़ है। उन्होंने कहा, ‘‘यह इकलौता राज्य है जहां आपको फर्जी टीकाकरण शिविर संचालित होते मिल जाएंगे। हमने कभी फर्जी टीकाकरण के बारे में नहीं सुना है। यहां तक कि तृणमूल कांग्रेस की सांसद मिमि चक्रवर्ती को भी फर्जी टीका लग गया है।”

    उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो बनर्जी टीकाकरण अभियान को लेकर रोज-रोज ‘‘अपने बयान बदल रही हैं” और केन्द्र सरकार द्वारा राज्यों को नि:शुल्क टीका उपलब्ध कराए जाने के बावजूद राज्य सरकार इस प्रक्रिया में असफल हुई है। कोलकाता में संदेहास्पद शिविर का आयोजन करने के मामले में हाल ही में इस टीका शिविर के सरगना सहित कई लोगों को गिरफ्तार किया गया। इस शिविर में कई लोगों ने टीका भी लगवाया था।

    भाजपा अध्यक्ष राज्य में विधानसभा चुनाव समाप्त होने के बाद पार्टी की बंगाल इकाई की पहली कार्यकारिणी समिति की बैठक को ऑनलाइन संबोधित कर रहे थे। नड्डा ने कहा कि चुनाव बाद हिंसा ने राज्य प्रशासन की असफलता को साफ-साफ दिखाया है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा कार्यकर्ताओं के आधार कार्ड और राशन कार्ड छीन लिए गए और पुलिस मूक दर्शक बनी हुई है। उन्होंने सवाल किया, ‘‘यह सबकुछ एक महिला मुख्यमंत्री के शासन में हुआ है।

    महिलाएं तमाम उत्पीड़न झेल रही हैं। अगर महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं तो पश्चिम बंगाल के लोगों को तृणमूल कांग्रेस कैसा शासन दे रही है?” भाजपा अध्यक्ष के आरोपों से इनकार करते हुए तृणमूल के प्रदेश महासचिव कुणाल घोष ने दावा कि केंद्र का टीकाकरण कार्यक्रम ‘‘अव्यवस्था” में है और केंद्र सरकार पश्चिम बंगाल को पर्याप्त टीका उपलब्ध कराने में नाकाम रही है। (एजेंसी)